Bhopal Suicide Case: भाई—बहन के रिश्ते में विलेन बना पति

Share

Bhopal Suicide Case: महिला समेत दो व्यक्तियों ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। भाई से बहन (Brother-Sister) के एक अटूट प्यार की कहानी सामने आई है। घटना मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Suicide Case) की है। बहन अपनी भाई को राखी न बांधे जाने के फैसले से दुखी थी। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम किया है। इधर, एक अन्य व्यक्ति का भी शव फंदे पर पुलिस को लटका मिला है। शव तीन से चार दिन पुराना बताया जा रहा है। जिस व्यक्ति का शव मिला है उसकी थाने में गुमशुदगी भी दर्ज (FIR) थी।

ससुराल में लगाई फांसी

गुनगा थाना पुलिस (Gunga Police Station) ने बताया कि घटना 3 अगस्त की शाम 7 बजे की है। यहां इजगिरी गांव में रहने वाली नीतू सहरिया (Nitu Sahariya) पति अजय सिंह उम्र 25 साल ने फांसी लगा ली थी। घटना की सूचना पति ने पुलिस को दी थी। नीतू का मायका राजगढत्र जिले में बरखेड़ी थाना कुंवर (Barkhedi Thana Kunwar) में था। शादी 7 साल पहले हुई थी। नीतू के दो बच्चे भी है। वह रक्षाबंधन वाले दिन मायके न भेजे जाने से नाराज थी। जिसके बाद वह फांसी पर झूल गया था। घटना के वक्त पति घर पर नहीं था। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम (PM) के बाद परिजनों को सौंप दिया हैं।

यह भी पढ़ें: बलात्कार के मामले में आरोपी बिल्डर पर थाने की पुलिस इस कारण हुई मेहरबान

लापता युवक की मिली लाश

इधर, पिपलानी थाना पुलिस (Piplani Police Station) को एक लापता युवक की लाश (Body) मिली है। घटना की जानकारी पुलिस को 4 अगस्त की दोपहर लगभग 12 बजे मिली थी। शव की पहचान लोकेश अंबोलकर (Lokesh Ambolkar) पिता गुलाब राव उम्र 21 साल के रुप में हुई है। वह पिपलानी इलाके के सिंचाई विभाग की कॉलोनी के नजदीक रहता था। लोकेश अंबोलकर की थाने में 1 अगस्त को गुमशुदगी की रिपोर्ट हुई थी। वह 31 जुलाई की रात 11 बजे से लापता था। जहां लाश मिली है वहां उसका पिता पहले काम करता था। लाश सड़ी हुई हालत में लटकी मिली है। शव होने की जानकारी पुलिस को सिंचाई विभाग के चौकीदार गोविंद (Choukidar Govind ) ने दी थी।

यह भी पढ़ें:   Indore Wife Swapping : कारोबारी पड़ोसी को पैंसो का एग्रीमेंट करके पत्नी सौंपी

पुलिस ने यह कहा

गुनगा पुलिस का कहना है कि नीतू के परिजनों के बयान दर्ज किए जाएंगे। जिसके बाद अगली कार्रवाई होगी। वहीं पिपलानी पुलिस (Piplani Police) का कहना है कि परिजनों के बयान दर्ज किए जा रहे है। जिसके बाद फैसला होगा। पुलिस को फिलहाल पीएम रिपोर्ट (PM Report) का इंतजार है। जिससे यह पता चल सके कि मौत किन वजहों से हुई है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!