Bbopal Crime: लो बीपी की शिकार गर्भवती गिरी, महिला के बाद गर्भ में पल रहे बच्चे की भी मौत

Share

दो साल पहले हुई थी शादी, घटना की वास्तविकता का पता लगाने में जुटी पुलिस

Bhopal Crime
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) हादसा किस रुप में कब हो जाये कोई नहीं बता सकता। बचाव के लिए जरुरी है कि एहतियात बरते। मामला गमगीन कर देने वाला है। घटना मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Suspect Death) के पिपलानी थाना क्षेत्र की हैं। मामला एक महिला की संदिग्ध मौत (Mashya Pradesh Suspect Death Case) से जुड़ा है। जिस महिला की मौत हुई उसकी दो साल पहले शादी हुई थी। ससुराल वालों का दावा है कि वह घर पर चक्कर आने की वजह से गिर गई थी। यहां तक परिवार सबकुछ सहन कर गया। लेकिन, परिवार को दुख इस बात का भी है कि उसके गिरने की वजह से गर्भ (Bhopal Pregnent Lady Death Case) में पल रहे शिशु को भी नहीं बचाया जा सका। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए हैं।

पिपलानी थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com द क्राइम इंफो डॉट कॉम को बताया कि नीतू (Neetu) पति किशन उम्र 24 साल की मौत का मामला सामने आया हैं। परिजनों ने बताया कि वह 50 क्वार्टर में रहती थी। उसकी शादी दो साल पहले ही हुई थी। जिसके बाद वह नौ माह की गर्भवती थी। शुरूवात से ही उसे लो ब्लड प्रेशर की शिकायत रहती थी। घटना वाले दिन करीब सुबह 5:30 बजे वह बाथरूम के लिए उठी थी। आते ही वह बेहोश होकर बिस्तर पर पेट के बल गिर गई थी। परिजन उसे आनन-फानन में जेपी अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। इस कारण उसके गर्भ में पल रहे बच्चे की भी मौत हो गई थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनोें को सौंप दिए हैं। वही आसपास के लोगों से भी पता चला है कि वह लो ब्लड प्रेशर की शिकार थी। बाकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पिपलानी पुलिस कार्यवाई करेगी। इधर, मामला नव विवाहित महिला की मौत से जुड़ा है। इसलिए थाना पुलिस केस डायरी सीएसपी गोविंदपुरा संभाग को सौपने की तैयारी में है। यहां सीएसपी मायके और ससुराल पक्ष के परिजनों के बयान दर्ज करेंगे।

यह भी पढ़ें:   Uttarakhand Political Crisis: उत्तराखंड राज्य के सीएम जो सबसे कम दिन सीएम रहे

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!