चलती बस में लगी आग, 5 लोग जिंदा जले

Share

बस में 32 यात्री थे सवार, ड्राइवर-कंडक्टर कूद कर भागे

Karnataka Bus Fire
जलकर खाक हुई बस

बेंगलुरु। पुणे-बेंगलुरु राष्ट्रीय राजमार्ग (Pune Bengaluru National Highway 48) पर भीषण हादसा हो गया। चलती बस में आग लग गई। हादसे में 5 लोग जिंदा जल गए। मरने वालों में 3 मासूम शामिल है। घटना हिरियूर तालुक (Hiriyur taluk) के जवानागोंडानहल्ली (Javanagondanahalli) के पास कस्तूरीरंगप्पनहल्ली (Kasturirangappanahalli ) गांव में हुई। मृतकों की पहचान शीला (33), स्पर्षा (8), समृद्धि (5), कविता (29) और निश्चिता (3) के रूप में हुई। पुलिस के अनुसार, सभी पीड़ित विजयपुरा (Vijayapura) से बेंगलुरु (Bengaluru) जा रहे थे और बस में तड़के 3: 45 बजे आग लग गई। आग लगने के सही कारण का अभी पता नहीं चल पाया है।

6.30 बजे सुबह पहुंचना था बेंगलुरु

हिरियूर तालुक सीमा में बस में आग लगने की यह तीसरी घटना है। विजयपुरा से नियमित रूप से यात्रियों को ले जाने वाली बस ने रात 9 बजे अपनी यात्रा शुरु की, बस को सुबह 6: 30 बजे बेंगलुरु पहुंचना था। बस में 32 यात्री सवार थे। हादसे में बच गए एक यात्री ने कहा कि रात 11 बजे एक छोटे से ब्रेक को छोड़कर, बस बिना रुके चल रही थी।

इंजन में लगी आग

इंजन के पास आग लगते ही क्लीनर के साथ बस के ड्राइवर ने बस रोक दी और बाहर कूद गया। यात्री ने बताया कि “जैसा कि मैंने देखा कि बस में आग लगी हुई थी, मैं कांच तोड़कर बस से बाहर कूद गया और बच गया। मैं पीछे की सीट पर रहने वाले को भी बाहर निकालने में सक्षम था और उसे बचाया”।

यह भी पढ़ें:   एनआईए ने क्लीन चिट दी अब राज्य सरकार की एसआईटी करेगी जाँच

जो सो रहे थे मर गए

साथी यात्रियों की चीख-पुकार सुनकर कई लोग बस से कूद गए। उनमें से कुछ को इस प्रक्रिया में मामूली चोटें आईं और उनका इलाज हिरियूर तालुक अस्पताल में किया जा रहा है। जो गहरी नींद में थे और बस से बाहर आने में असमर्थ थे उनकी मृत्यु हो गई। हिरियूर ग्रामीण पुलिस घटना की जांच कर रही है। एसपी जी राधिका ने घटनास्थल का दौरा किया और बचाव कार्य का जायजा लिया।

यह भी पढ़ेंः फेसबुक पोस्ट से भड़की हिंसा, पुलिस की गोली से तीन की मौत

Don`t copy text!