74th Independence Day: भारत के पहले प्रधानमंत्री जिन्होंने झंडा वंदन करके तोड़ा गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्रियों का रिकॉर्ड

Share

74th Independence Day: लाल किले की प्राचीर से देशवासियों को हेल्थ गार्ड, फाइबर आप्टिकल और जम्मू—कश्मीर चुनाव कराने का किया ऐलान

74th Independence Day
राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी—साभार पीआईबी

दिल्ली। भारत ने शनिवार को 74वां स्वतंत्रता दिवस (74th Independence Day) मनाया। देश की राजधानी दिल्ली स्थित लाल किले की प्राचीर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने झंडा वंदन किया। इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने रिकॉर्ड (PM Modi Record) अपने नाम कर लिया। वे आजादी के बाद ऐसे पहले गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री (Non Congress PM Record) बने जिन्होंने झंडा वंदन करके रिकॉर्ड अपने नाम किया। इससे पहले यह रिकॉर्ड कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु (Jawahar Lal Nehru), इंदिरा गांधी और मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) के नाम पर था। ध्वजारोहण के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को संबोधित (Prime Minister Narendra Modi Speech) किया। उनके भाषण में देश के लिए 11 बिंदु थे जो वैश्विक महामारी से निपटने और नेशनल डिजीटल हेल्थ मिशन (National Digital Health Mission) की शुरुआत का ऐलान किया।

आत्मनिर्भर होने से भारत को रोक नहीं सकता

पीएम नरेंद्र मोदी ने 7 वीं बार लाल किले पर झंडा फहराया। 86 मिनट के भाषण में पीएम मोदी ने 30 बार आत्मनिर्भर शब्द का इस्तेमाल किया। उन्होंने आत्मनिर्भर, आत्मनिर्भर भारत, कोरोना संकट, आतंकवाद, रिफॉर्म, और कश्मीर का जिक्र भी अपने भाषण में किया। पीएम मोदी ने कहा कि 130 करोड़ लोगों ने आत्मनिर्भर बनने का संकल्प लिया है। कोरोना इतनी बड़ी विपत्ति नहीं है जो आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को रोक सके।

पीएम मोदी की 11 मुख्य बातें

74th Independence Day
झंडावंदन के पश्चात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

1 भारत को आत्मनिर्भर बनाना

वोकल फॉर लोकल का मंत्र देते हुए पीएम मोदी ने कहा आत्मनिर्भर भारत आज 130 करोड़ देशवासियों के लिए मंत्र बन गया है। जैसे ही बेटा 21 साल का होता है। परिवार उसको अपने पैरों पर खड़ा देखना चाहता है। आजादी के इतने साल बाद भारत को आत्मनिर्भर बनना जरूरी है। देश में को परिवार के लिए जरूरी है वही देश के लिए भी जरूरी है।

2 त्याग और बलिदान का पर्व है

पीएम मोदी ने कहा जो आज हम स्वतंत्र भारत में सांस ले रहे हैं। वह लाखों बेटे—बेटियों के बलिदान और समर्पण से ही संभव हो पाया है। आज आजादी के वीरों, शहीदों और स्वतंत्रता सेनानियों के नमन का पर्व है। सेना-अर्द्ध सैनिक बलों के जवान, पुलिस के जवान और सुरक्षा बलों से जुड़ा हर शख्स जो भारत माता की रक्षा में जुटा है उन सबको आज नमन करने का पर्व है।

3 आत्मनिर्भर किसान

पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा कि मेरी पहली प्राथमिकता आत्मनिर्भर कृषि और आत्मनिर्भर किसान हैं। लगातार किसानों के लिए रिफॉर्म्स हमने किए हैं। उनको सभी तरह के बंधनों से मुक्त किया है। आप साबुन, कपड़ा और अन्य सामान कहीं भी बेच सकते हैं। लेकिन, किसानों के लिए ऐसा नहीं था। हमने सारे बंधनों को खत्म कर दिया है। अब किसान दुनिया के किसी भी कोने में अपनी उपज को बेच सकता है।

यह भी पढ़ें:   गुना मामले में सोशल मीडिया पर भी घिरी सरकार, एसपी-कलेक्टर को हटाया

4 देश की संप्रभुता की रक्षा करना

पीएम मोदी ने कहा कि एलओसी से लेकर एलएसी तक जिसने हमें आंख दिखाने की कोशिश की सेना ने और हमारे वीर जवानों ने उसी भाषा में जवाब दिया। भारत की संप्रभुता की रक्षा के लिए पूरा देश एकजुट है संकल्पित है। मैं मातृभूमि पर न्योच्छावर होने वाले वीर जवानों को लाल किले की प्राचीर से आदरपूर्वक नमन करता हूं।

5 विस्तारवाद और आतंकवाद से डटकर मुकाबला

74th Independence Day
सैन्य दस्ते का निरीक्षण करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

पीएम मोदी ने लाल किले से देश की जनता को संबोधित करते हुए कहा आज भारत आतंकवाद हो या विस्तारवाद दोनों से डटकर मुकाबला कर रहा है। दुनिया का भारत पर विश्वास मजबूत हुआ है। पिछले दिनों संयुक्त राष्ट्र में 192 में 184 वोट भारत को अस्थाई सदस्यता के लिए मिला था। इससे साबित होता है कि हमने विश्व में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। भारत लगातार प्रयास कर रहा है कि अपने पड़ोसी देशों के साथ सदियों पुरानी सांस्कृतिक और सामाजिक रिश्तों को और गहराई दे।

6 कोरोना वैक्सीन जल्द

सभी के मन में यह सवाल है कि कोरोना वैक्सीन कब आएगी। लेकिन, देश के वैज्ञानिक वैक्सीन बनाने में जी जान से जुटे हुए हैं। भारत में तीन वैक्सीन टेस्टिंग अलग—अलग चरण पर हैं। जैसे ही वैज्ञानिकों से हरी झंडी मिलेगी प्रोडक्शन शुरू हो जाएगा। हर भारतीय के पास वैक्सीन कैसे पहुंचे इसका भी खाका तैयार हो गया है।

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार के इन फैसलों को याद करके विपक्ष आज भी सहम जाता है जानिए क्यों

7 जल्द होंगे जम्मू—कश्मीर में चुनाव

पीएम मोदी ने कहा जम्मू कश्मीर में सीमांकन की प्रक्रिया चल रही है। सीमांकन के पूरा होते ही चुनाव कराया जाएगा। मैं चाहता हूं कि जम्मू कश्मीर में विधायक चुनकर आए और विकास को आगे लेकर जाएं। कश्मीर के मुद्दे पर सार्वजनिक मंच से दिया गया यह प्रधानमंत्री का पहला वक्तव्य है। जिसका जम्मू—कश्मीर के नागरिक लंबे अरसे से इंतजार कर रहे थे।

8 डिजिटल हेल्थ मिशन की शुरुआत

पीएम मोदी ने लाल किले से आज 15 अगस्त को नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन को शुरु करने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि हर भारतीय को हेल्थ आईडी दी जाएगी। यह उसके खाते की तरह काम करेगी। इसमें दवाई से लेकर जिस डॉक्टर को दिखाया सारी जानकारी शामिल होगी। यह देश के हेल्थ सेक्टर में नई क्रांति लाएगा।

यह भी पढ़ें:   TCI Exclusive: प्रदेश में पहली बार बिना डीजीपी मनेगा पुलिस स्मृति दिवस परेड समारोह

9 नई शिक्षा नीति पर फोकस

आत्मनिर्भर भारत और आधुनिक भारत के निर्माण में नई शिक्षा नीति कारगर सिद्ध होगी। इसके साथ देश को तीन दशक के बाद हमने नई शिक्षा नीति देने में सफल रहे। नई शिक्षा नीति में नेशनल रिसर्च फाउंडेशन पर बल दिया गया है। इससे हमारे बच्चे जड़ से मजबूत होंगे। नई शिक्षा नीति बच्चों को ग्लोबल सिटीजन बनने का भी सामर्थ्य देगी।

10 गांव—गांव ऑप्टिकल फाइबर पहुंचाने का लक्ष्य

पीएम मोदी ने कहा कि 1000 दिन में 6 लाख गांव को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा पिछले 5 सालों में 1.5 लाख पंचायतों तक ऑप्टिकल फाइबर पहुंच चुका है। हमने तय किया है कि 6 लाख से ज्यादा गावों में ऑप्टिकल फाइबर पहुंचाएंगे। लाखों किलोमीटर तक ऑप्टिकल फाइबर बिछाई जाएगी।

11 देश की महिलाएं आर्थिक रूप से मजबूत हुईं

पीएम मोदी ने अपनी सफलताओं को गिनाते हुए कहा कि 40 करोड़ जनधन खातों में 22 करोड़ खाते महिलाओं के है। 25 करोड़ मुद्रा लोन में 70% लोन महिलाओं को दिया गया। गरीब मां—बहन, बेटियों के स्वास्थ्य सुरक्षा की चिंता हम लगातार कर रहे हैं और अच्छी सुविधा देने की कोशिश जारी है।

मोदी के लिए क्यों है यह पर्व खास

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए 74वां स्वतंत्रता दिवस बहुत खास है। गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री जिन्होंने अपना कार्यकाल पूरा नहीं किया था। उनमें मोरारजी देसाई, चौधरी चरण सिंह, विश्वनाथ प्रताप सिंह, चंद्रशेखर, एचडी देवगौडा, इंद्रकुमार गुजराल, अटल बिहारी बाजपेयी (Atal Bihari Bajpai) के तीन कार्यकाल। गैर कांग्रेसी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त को 2274 वां​ दिन पूरा किया। इससे पहले सर्वाधिक समय तक प्रधानमंत्री कांग्रेस पार्टी की तरफ से होने का रिकॉर्ड जवाहर लाल नेहरु, इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) और मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) के पास रहा था।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!