Honor Killing : शादी के बाद भी चल रहा था प्रेम-प्रसंग, पिता ने बेटी का गला रेंता

Share

गांव के प्रधान के बेटे से था प्रेम-प्रसंग, प्रेमी के खिलाफ बयान नहीं देना चाहती थी

Honor Killing
सांकेतिक चित्र

बहराइच। उत्तर प्रदेश बहराइच (Bahraich) जिले से ऑनर किलिंग (Honor Killing Case) का मामला सामने आया है। यहां एक पिता ने अपनी नाबालिग बेटी की गला रेंत कर मौत के घाट उतार दिया। 16 वर्षीय नाबालिग का गांव के ही एक युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। आरोपी पिता ने पहले दूसरे पक्ष को फंसाने के लिए झूठी एफआईआर कराई। लेकिन पुलिस जांच में सच सामने आ गया। पुलिस को जब पता चला कि मामला प्रेम-प्रसंग से जुड़ा हुआ है, तो ऑनर किलिंग के एंगल से जांच की गई। पुलिस ने बताया कि आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

दूसरे समुदाय का है युवक

घटना जिले के रिसिया थाना क्षेत्र की है। एक व्यक्ति ने अपनी 16 वर्षीय बेटी की दूसरे समुदाय के युवक से प्रेम संबंध के चलते कथित रूप से हत्या कर दी। पुलिस अधीक्षक विपिन मिश्रा (SP Vipin Mishra) ने मंगलवार को बताया कि रिसिया थानांतर्गत विशुनपुर गांव में सुभाष ने कुछ दिन पहले ही अपनी पुत्री शंकरानी का विवाह किया था, लेकिन अभी गौना नहीं हुआ था। मिश्रा ने बताया कि शंकरानी का गांव में दूसरे समुदाय के एक युवक छोटकऊ से कथित प्रेम प्रसंग था। छोटकऊ का चाचा इब्राहिम गांव का प्रधान है।

उन्होंने बताया कि 20 जून को युवक के खिलाफ पॉक्सो कानून एवं भारतीय दंड संहिता की अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया था। छोटकऊ को 23 जून को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शंकरानी की रविवार को कथित रूप से गला रेतकर हत्या कर दी गयी। शंकरानी का शव गांव के बाहर एक बाग से बरामद हुआ।

यह भी पढ़ें:   लड़की की वजह से दोस्त बन गया दुश्मन, ऐसे खत्म हुई प्रेम कहानी

झूठा केस दर्ज करा दिया

उन्होंने बताया कि सुभाष ने इब्राहिम एवं तीन अन्य लोगों पर हत्या, लूटपाट और अपहरण का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया। मिश्रा ने बताया कि पुलिस ने जब जांच शुरू की, तो शंकरानी के कथित प्रेम प्रसंग की बात सामने आई। उन्होंने बताया कि पुलिस की पूछताछ में सुभाष ने आरोप स्वीकार किया कि उसकी पुत्री छोटकऊ के खिलाफ बयान देने के लिए राजी नहीं हो रही थी, इसलिए उसकी कथित रूप से हत्या कर दी गई।

मिश्रा ने बताया कि पुलिस ने सुभाष के खिलाफ हत्या करने, फर्जी मुकदमा दर्ज कराने और भारतीय दंड संहिता की अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उसे सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शंकरानी का बाल विवाह कराने संबंधी मामले की जांच के भी आदेश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ेंः बंदर के साथ हैवानियत, फांसी पर लटकाया, मरने के बाद कुत्तों के सामने फेंक दिया, देखें वीडियो

Don`t copy text!