MP Liquor Mafia: आबकारी मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में बन रही थी जहरीली शराब

Share

MP Liquor Mafia: तीन व्यक्तियों की मौत, दो की हालत नाजुक, विपक्ष ने सरकार को घेरा, आबकारी एसआई निलंबित

MP Liquor Mafia
मंदसौर जिले के खखराई गांव में जहरीली शराब पीने से मौत के मामले में पीएम कराने आए परिजनों के बयान दर्ज करती पुलिस

भोपाल। मध्य प्रदेश के मंदसौर शहर की ताजा न्यूज यहां जहरीली शराब (MP Liquor Mafia) पीने से हुई तीन व्यक्तियों की मौत से जुड़ी है। जहां यह घटना हुई वह क्षेत्र आबकारी मंत्री जगदीश देवड़ा का विधानसभा क्षेत्र है। जिसके बाद विपक्ष के नेताओं ने सरकार को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इस बीच आबकारी विभाग के एसआई को निलंबित कर दिया गया है। जबकि थाने के दो पुलिस अफसरों को लाइन हाजिर किया गया है।

माफिया कब गढ़ेंगे और कब लटकेंगे

इस जानकारी के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (EX CM Kamalnath) ने शिवराज सरकार को घेरा। उन्होंने ट्वीट किया कि उज्जैन, मुरैना, भिंड, ग्वालियर के बाद मंदसौर में जहरीली शराब पीने से मौत हो गई। प्रदेश के आबकारी मंत्री के क्षेत्र की यह स्थिति? पता नहीं शिवराज सरकार में माफिया कब गढ़ेंगे, कब टगेंगे, कब लटकेंगे? माफियाओं के हौसले बुलंद?। यह कहते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। वहीं पीड़ित परिवार को मदद पहुंचाने के लिए सरकार से उन्होंने मांग की है। सोशल मीडिया में दिनभर इस बात को लेकर सरकार को कोसा गया। नतीजतन, प्रदेश के वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा (Minister Jagdish Devda) ने वीडियो बयान जारी करके अपनी सफाई दी।

सरकार नहीं मान रही जहरीली शराब

MP Liquor Mafia
बयान जारी करने वाले वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा के वीडियो से लिया गया चित्र

खबर है कि जहरीली शराब पीने से घनश्याम बावरी, श्यामलाल मेघवाल और मनोहर लाल बागरी की मौत हो गई है। वहीं पर्वत सिंह की हालत नाजुक है। शराब से बुरे असर वाले अन्य व्यक्तियों के संबंध में प्रशासन की तरफ से पड़ताल की जा रही है। इधर, वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने मंदसौर जिले के खखराई गांव में हुई घटना के बाद वीडियो बयान जारी किया। उन्होंने कहा कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण हैं। इस मामले के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही साफ होगा कि मौत जहरीली शराब पीने की वजह से हुई है।

यह भी पढ़ें:   MP Road Mishap: सड़क हादसे में एएसआई की मौत

सिस्टम हरकत में आया

MP Liquor Mafia
चारों तरफ से जब सरकार घिरी तो आनन—फानन में प्रशासन ने अवैध शराब बेचने वालों के ठिकानों पर बुलडोजर चलाकर अतिक्रमण ध्वस्त किया।

मंदसौर में जहरीली शराब पीने से तीन व्यक्तियों की मौत के बाद सिस्टम हरकत में आया। कलेक्टर मनोज पुष्प (IAS Manoj Pushp) ने इस घटना को लेकर आबकारी विभाग के मल्हारगढ़ में तैनात एसआई नरेन्द्र डामर (Narendra Damer) को निलंबित कर दिया। वहीं एसपी सिद्धार्थ चौधरी ने संबंधित थाने के दो अफसरों को लाइन हाजिर कर दिया। इसकेे अलावा प्रशासन की तरफ से आनन—फानन में जेसीबी मशीन बुलाकर वह स्थान जहां अवैध शराब बेची जा रही थी उसका अतिक्रमण गिराया गया। मामले ने राजनीतिक तूल भी ले लिया है। इसलिए मृतकों के घरों के आस—पास सादी वर्दी में पुलिस कर्मचारियों को निगरानी के लिए तैनात कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस के इस नेता ने लॉक डाउन के दौरान बांटे जा रहे अनाज में किए जा रहे घोटाले का खुलासा किया

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Liquor Mafia
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!