Rajasthan Political News: मुस्कुराए, हाथ मिलाए पर गले नहीं मिले

Share

Rajasthan Political News: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट का विधायकों की बैठक में हुआ 34 दिन बाद आमना—सामना

Rajasthan Political News
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ सचिन पायलट

जयपुर। राजस्थान (Rajasthan Political News) का घमासान कौन नहीं जानता। यहां राजनीति के दो दिग्गजों के बीच वर्चस्व की जंग चल रही है। एक युवा वर्ग का प्रतिनिधित्व करता है तो दूसरा पुरानी पीढ़ी के कांग्रेस नेताओं का। बात हो रही है राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट (DCM Sachin Pilot)का गुरुवार को आमना—सामना हुआ। दोनों मुलाकात के वक्त मुस्कुराए, हाथ मिलाए पर एक—दूसरे से गले नहीं मिले। दोनों नेता गहलोत के घर में ही आयोजित कांग्रेस विधायक दल की बैठक में मिले थे। इससे पहले ही गहलोत ने पायलट को घर बुलाकर मुलाकात की थी।

मुुख्यमंत्री गहलोत ने कहा फारगेट एंड फारगिव

पायलट खेमे के भंवरलाल शर्मा (Bhavar Sharma) और विश्ववेंद्र सिंह (Vishvavendra Singh) का निलंबन वापस ले लिया गया है। हार्स ट्रेडिंग में शामिल होने की वजह से दोनों को निलंबित कर दिया गया था। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा मैं फारगेट एंड फारगिव में भरोसा करता हूं। भूलो, माफ करो और लोकतंत्र को बचाने के लिए आगे बढ़ो।
उन्होंने कहा लोकतंत्र बचाने के लिए सोनिया गांधी (Sonia Dandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के नेतृत्व में हम लड़ाई लड़ रहे हैं। आपसी मतभेदों को देशहित के लिए, प्रदेशहित के लिए और लोकतंत्र के हित के लिए भूलना पड़ता है।

यह भी पढ़े: घरेलू विवाद के चलते पत्नी ने पैसो के लिए अपने बेटे को बेचा

चुनी हुई सरकारों को तोड़ने की साजिश

गहलोत खेमे के विधायक अभी भी बाडाबंदी निगरानी में में हैं। लेकिन, पायलट खेमे के विधायक इससे मुक्त होकर जयपुर अपने—अपने घर वापस आ गए हैं। दो दिन पहले ही बाडाबंदी से मुक्त किया गया है। बुधवार शाम पायलट ने अपने सरकारी आवास पर विधायकों के साथ मीटिेंग की थी। इस बैठक में अगली रणनीति पर काफी चर्चा हुई। हालांकि इसे अनौपचारिक मुलाकात बताया गया। उधर, गुरुवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा देश में चुनी हुई सरकारों को तोड़ने की कोशिश चल रही है। देश मे ईडी, सीबीआई, इनकम टैक्स, ज्यूडिशियरी का दुरूपयोग हो रहा है। एक बहुत बड़ा गेम खेला जा रहा है। डेमोक्रेसी को कमजोर करने की पूरी कोशिश की जा रही है।

यह भी पढ़ें:   14 साल की लड़की ने लगाई फांसी, एक दिन पहले हुआ था रेप

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!