Rajasthan Crime: नींद में सोए मां—बेटे दोबारा नहीं उठ सके

Share

ठंड से बचने के लिए जलाई सिगड़ी के धुएं में दम घुटने से दर्दनाक मौत

 

Rajasathan Murder Mystery
सांकेतिक चित्र

जयपुर। मौसम ने करवट बदल ली है। ठंड का प्रकोप (Cold Havoc) असर दिखाने लगा है। इससे बचने के लिए लोग घर में सिगड़ी से लेकर दूसरे इंतजाम करने लगे हैं। लेकिन, यही इंतजाम एक मां—बेटे की मौत (Suspected Death) का कारण बन गए। मामला राजस्थान (#Rajasthan Crime) की राजधानी  जयपुर (#Jaipur Crime) की चाकसू तहसील के तहत निमोडिया (Nimodiya) गांव का है। यहां ठंड से बचने के लिए सिगड़ी जलाकर सोए मां—बेटे सुबह उठ नहीं सके। उनकी सिगड़ी के धुएं में दम घुटने से मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम करके शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
जानकारी के अनुसार चाकसू थाना इलाके की इस घटना का पता चलने पर गांव में मातम पसर गया था। मरने वाला दो साल का बच्चा और उसकी मां थे। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस भी बहुत देर तक मामले को समझ नहीं सकी। यहां चाकसू बायपास पर एक होटल में काम करने वाला रामदयाल मौची 26 साल निवासी गांव बंबोरी (टोंक) पत्नी ऐजन 22 साल और  बेटे निखिल 2 साल के साथ गांव दयापुरा में किराए के मकान में रहते थे। घटना वाली रात सर्दी से बचने के लिए पत्नी ने बंद कमरे में सिगड़ी जलाकर सोए हुए थे। सुबह साढ़े आठ बजे रामदयाल उठा तो पत्नी और बेटे अचेत अवस्था में पाया। दोनों को देख घबराया पति ने यह जानकारी मकान मालिक को दी। पुलिस मामले को दूसरे बिंदु से भी पड़ताल कर रही है। इसके लिए उसने रामदयाल के बयान दर्ज कर लिए हैं।

यह भी पढ़ें:   Rajasthan Murder: रेप पीड़िता ने न्याय के लिए दबाव बनाया तो आरोपी ने पिता को गोली मारी

पति ने पुलिस को बताया कि वह रात को शराब पीकर आया था। जिसके बाद वह खाना खाकर सो गया था। सोने के दौरान की उसे दो बार उल्टी भी हुई थी। जिससे वह कमरे से बाहर चला गया था। फिलहाल पुलिस अब तक की जांच में सिगड़ी के धुएं से दम घुटना मान रही है। पुलिस ने बताया की मामले का पूरा खुलासा एफएसएल रिपोर्ट आने के बाद ही होगा। इसके अलावा सुबह कमरे में सिगड़ी जलती हुई मिली थी। पुलिस ने बताया कि रामदयाल की शादी को तीन साल हुए है। इसलिए मामला नवविवाहिता से जुड़ा होने के कारण जांच राजपत्रित अफसर को सौंप दी गई है।

Don`t copy text!