MP Money Laundering: बेटी की शादी के लिए ढ़ाई लाख का कर्ज, चुका दिए 6 लाख, फिर भी धमकी

Share

किसान की शिकायत पर सूदखोर दंपत्ति के खिलाफ मामला दर्ज, ब्याज न चुकाने पर लगाते थे 10 हजार रुपए का अर्थ दंड

MP Money Laundering
सांकेतिक चित्र

इंदौर। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) सूदखोरों (Money Launder) के कारण कई बार बदनाम हो चुका है। ताजा मामला इंदौर (Indore) से सामने आया है। यहां एक सूदखोरी (MP Money Laundering) करने वाले दंपत्ति के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। इस दंपत्ति ने किसान (Madhya Pradesh Farmer) को उसकी बेटी की शादी के लिए ढ़ाई लाख रुपए का कर्जा (Farmer Loan) दिया था। किसान अब तक 6 लाख रुपए चुकता कर चुका है। लेकिन, अब भी उसको पुरानी किस्त की पैनल्टी चुकाने के नाम पर धमकाया जा रहा था।

जानकारी के अनुसार सूदखोरी का यह मामला इंदौर के द्वारिकापुरी थाने (Dwarkapuri Police Station) का है। यहां परिवहन नगर कॉलोनी (Parivahan Nagar Colony) में सुरेश तिवारी (Suresh Tiwari) का परिवार रहता है। सुरेश पेशे से किसान हैं और छोटी—मोटी परचून की दुकान चलाते हैं। घर के नजदीक ही गुणवंत जैन (Gunvant Jain), उसकी पत्नी संध्या जैन (Sandhya Jain) का परिवार रहता है। पिछले साल सुरेश तिवारी ने बेटी की शादी की थी। इस शादी के लिए सुरेश ने ढ़ाई लाख रुपए का कर्जा (Money Laundering) जैन दंपत्ति से लिया था। यह रकम 10 फीसदी ब्याज पर ली गई थी। पैसा देरी से भुगतान करने पर दंपत्ति उससे 10 हजार रुपए ब्याज वसूलता था। ऐसा करते हुए वह करीब 6 लाख रुपए का भुगतान कर चुका था। जब उन्हें अहसास हुआ कि दंपत्ति उससे ज्यादा रकम वसूल चुके हैं तो उन्होंने पैसा देना बंद कर दिया। नतीजतन, दंपत्ति उसको घर जाकर धमकाने लगा।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: चार बेटियों की मां ने एसिड पीकर की आत्महत्या

मामला पुलिस के पास तब पहुंचा जब जैन दंपत्ति ने किसान को धमकाने के लिए गुंडे भेज दिए। पुलिस को जब इस बात की खबर मिली तो उसने मामला दर्ज करके आरोपी दंपत्ति को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इस मामले में सूदखोरी रोकथाम अधिनियम के तहत कार्रवाई की है।

Don`t copy text!