MP Terrorism News: इंडियन मुजाहिद्दीन के एक नए मॉड्यूल को ध्वस्त किया 

Share

MP Terrorism News: सुरक्षा बलों को टारगेट करके हमले की थी योजना, परिजनों की रैकी करते एमपी एटीएस के हत्थे चढ़ा

MP Terrorism News
पत्रकारों को जानकारी देते हुए आईजी एटीएस।

भोपाल। मध्यप्रदेश में देश विरोधी गतिविधियों पर नकेल कसने का काम जारी है। इसी कड़ी में एमपी एटीएस (MP Terrorism News) को एक कामयाबी मिली है। उसने खंडवा जिले में सक्रिय इंडियन मुजाहिद्दीन के एक मॉड्यूल को ध्वस्त कर दिया। जांच एजेंसी ने उसे देश की सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े अफसरों और कर्मचारियों के डेटा कलेक्शन के साथ पकड़ा है। उससे एटीएस के अफसर पूछताछ कर रहे हैं।

इस तरह का नया ट्रेंड जो जांच एजेंसियों को अलर्ट करने जरुरी

पुलिस मुख्यालय (PHQ) की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार 4 जुलाई की सुबह खंडवा जिले से प्रतिबंधित संगठन इंडियन मुजाहिदीन (आईएम) से जुडे़ आतंकी फ़ैज़ान पिता हनीफ़ शेख उम्र 34 साल को गिरफ्तार किया। वह कंजर मोहल्ला, सलूजा कॉलोनी (Saluja Colony) में रहता है। आईजी एटीएस डॉ. आशीष (IG ATS ओेपगेप) ने यह जानकारी देते हुए बताया कि फ़ैज़ान शेख (इोगॆोल एपोगकप) के खिलाफ धारा 13(1)(बी)/18/20/38 विधि विरूद्ध क्रियाकलाप (निवारण) अधिनियम, 1967 का मामला दर्ज किया गया है। उसके पास से भारी मात्रा में आईएम, आईएसआईएस और अन्‍य आतंकी संगठनों से संबंधित जेहादी साहित्‍य, चार मोबाइल फोन, एक पिस्‍टल और 5 जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं। उसके पास सिमी संगठन के सदस्‍यता फॉर्म भी जप्‍त किए गए हैं। जब्त मोबाइल फोन और डिजिटल डिवाइस में भी विभिन्‍न आतंकी संगठन- इंडियन मुजाहिदीन, आईएसआईएस, जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा आदि के जेहादी साहित्‍य, वीडियो एवं फोटो प्राप्‍त हुए हैं। गिरफ्तार आतंकी के प्रतिबंधित संगठन सिमी के सदस्‍यों से भी संपर्क होना पाया गया है। यह अपने सोशल मीडिया- फेसबुक आईडी पर इंडियन मुजाहिदीन से संबंधित जिहादी पोस्ट कर आईएम/आईएसआईएस की विचारधारा का प्रचार-प्रसार कर रहा था। साथ ही आरोपी ने पाकिस्तान में चल रहे मुजाहिदीन ट्रेनिंग कैंप्स की वीडियो, मसूद अजहर (जैश-ए-मोहम्मद) लश्कर-ए-तैयबा की तक़रीर पोस्‍ट करते हुए कंधार विमान अपहरण की कहानी तथा मुल्ला उमर के बयान एवं अंसार ग़ज़वा-तुल-हिन्द (एजीएच) से संबंधित पोस्ट सोशल मीडिया के माध्‍यम से प्रसारित किए थे।

अब तक की यह उपलब्धि

फैजान के लोन वुल्फ अटैक (Lone Wolf Attack) की योजना थी। जिसके लिए सुरक्षा बल के जवानों एवं उनके परिजनों की निगरानी एवं रैकी की जा रही थी। वह ऐसा हमला करके स्‍वयं को इंडियन मुजाहिदीन के यासीन भटकल एवं सिमी सरगना अबू फैजल की तरह बड़ा मुजाहिद सिद्ध करना चाहता था। अपनी योजना को अंजाम देने के लिए उसने स्‍थानीय अवैध हथियार कारोबारी तथा राज्‍य के बाहर के लोगों से सम्‍पर्क कर पिस्‍टल एवं कारतूस एकत्र किए थे। प्रकरण में आरोपी की पुलिस रिमांड लेकर अग्रिम पूछताछ की जा रही है एवं इसके अन्य सहयोगियों के बारे में भी पता लगाया जा रहा है। एमपी एटीएस ने प्रदेश में सक्रिय प्रतिबंधित एवं रेडिकल संगठनों जैसे कि- SIMI, PFI, ISIS, JMB, HuT, Al-Sufa, LWE (Maoist) की गतिविधियों पर लगातार निगाहबानी का काम जारी रखा है।

तीन साल में यह मिल चुकी है सफलता

MP Terrorism News
सांकेतिक फोटो

एमपी एटीएस (MP ATS)  ने पॉपुलर फ्रंट आफ इंडिया के 22 सदस्यों को गिरफ्तार किया था। इसके अलावा इस्लामिक स्टेट आफ इराक एंड सीरिया अल सूफा से जुड़े संगठन के छह लोगों को दबोचा था। जमात उल मुजाहिद्दीन बांग्लादेश यानि जेएमबी से जुड़े आधा दर्जन लोगों को भी एमपी एटीएस पकड़कर सलाखों के पीछे डाल चुकी है। इसके अलावा हूत यानि हिज्ब उत तेहरीर संगठन से जुड़े 16 लोगों को सलाखों के पीछे पहुंचाने में सफलता पाई है। माओस्ट के एलडब्ल्यूई संगठन से जुड़े चार लोगों को एमपी एटीएस पकड़ चुकी है। पुलिस मुख्यालय के अनुसार तीन साल में अब तक 55 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। उनके कब्जे से हथियार, गोला बारूद, राष्‍ट्रविरोधी साहित्‍य, आपत्तिजनक दस्‍तावेज एवं डिजिटल उपकरण जब्त किए गए हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: मजदूर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

भारत में प्रतिबंधित संगठनों की सूची में इनके हैं नाम जो देश के लिए खतरा

मध्यप्रदेश पुलिस मुख्यालय के अनुसार इंडियन मुजाहिदीन (आईएम) को हिंसक उग्रवादी गतिविधियों के कारण भारत सरकार ने 2013 में प्रतिबंधित संगठन घोषित किया है। इस संगठन (MP Terrorism News) का उद्देश्‍य हिंसक तरीकों से भारत में इस्‍लामी राज्‍य की स्‍थापना करना है। इसकी भारत में 2005 से 2013 तक के बीच दिल्‍ली, मुंबई, हैदराबाद, अहमदाबाद, पुणे आदि स्‍थानों पर हुए बम धमाकों में संलिप्‍तता रही है। एमपी में इंडियन मुजाहिद्दीन के सरगना रियाज भटकल ने भर्ती एवं प्रशिक्षण के लिए मध्‍यप्रदेश के सिमी सदस्‍यों के सहयोग से मजबूत नेटवर्क स्‍थापित किया गया था। सिमी एवं आईएम आतंकियों ने अहमदाबाद सीरियल बम ब्‍लास्‍ट प्रकरण में वर्ष 2022 में मध्‍यप्रदेश के सिमी सरगना सफदर नागौरी सहित 3 आरोपियों को फांसी तथा अन्‍य 5 आरोपियों को अजीवन कारावास के दण्‍ड से दण्डित किया गया है।

यह नेटवर्क को अब तक किया जा चुका है ध्वस्त

इस्लामिक स्टेट इन इरान एंड सीरिया यानि (आईएसआईएस) अपने चरमपंथी विचारधारा और क्रूर रणनीति के लिए जाना जाता है, जिसका उद्देश्‍य वैश्विक इस्लामी साम्राज्य स्थापित करना है। मध्‍यप्रदेश ATS ने 2015 में ISIS से जुड़े 5 युवकों को रतलाम से गिरफ्तार किया था। इसके बाद 2017 में भोपाल-उज्‍जैन पैसेंजर ट्रेन में हुए बम ब्‍लास्‍ट में शामिल उत्‍तरप्रदेश से तीन आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं। इसके अलावा 2022 में निम्‍बाहेड़ा, राजस्‍थान में जप्‍त विस्‍फोटक प्रकरण में ISIS/Al-Sufa के तीन आरोपी गिरफ्तार किए गए थे। एमपी एटीएस ने ही 2023 में जबलपुर से ISIS Module के तीन आरोपी गिरफ्तार हुए थे। वहीं ISIS के गिरफ्तार इन आतंकियों से भारी मात्रा में हथियार, गोला बारूद, राष्‍ट्रविरोधी साहित्‍य, आपत्तिजनक दस्‍तावेज एवं डिजिटल उपकरण जब्त किये गए।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Terrorism News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   पिता के सामने बह गईं तीन बेटियां, दो भतीजियों को निकाला, विधायक कुणाल चौधरी पहुंचे
Don`t copy text!