Bhopal Suicide: अंग्रेजी में थी कमजोर सबक के लिए ऐसा उठाया कदम

Share

नहीं मिला सुसाइड नोट, परिजनों के बयान दर्ज, परिचितों की तलाश शुरू

Bhopal Suicide
सांकेतिक फोटो

भोपाल। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh Crime) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime) में 14 साल की नाबालिग ने फांसी (Bhopal Suicide) लगा ली। उसको परिजन उपचार के लिए उसको अस्पताल ले गए थे। जहां चिकित्सकों ने उसको मृत घोषित करके पुलिस को घटना की सूचना दी। परिजनों के प्राथमिक बयान में पुलिस को यह पता चला है कि बच्ची अंग्रेजी पढ़ने में कमजोर थी। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

भोपाल में आत्महत्या (Bhopal Suicide) का यह मामला गौतम नगर थाना क्षेत्र का है। थाना प्रभारी एसबी मिश्रा ने बताया कि क्षेत्र के गणेश नगर में एक 14 साल की नाबालिग बच्ची रहती थी। वह अंग्रेजी पढ़ने में कमजोर थी। वह मेहनत करने के बाद भी अंग्रेजी में अच्छे नम्बर नहीं ला पाती थी। इस बात से वह काफी परेशान रहने लगी थी। घटना वाले दिन उसके परिजन घर से काम पर गए हुए थे। बच्ची घर में अकेली थी। उसने साड़ी का फंदा बनाकर पंखे से लटककर फांसी पर झूल गई थी। इस बात की खबर उसके परिजनों को करीब दिन में 3:30 बजे लगी थी। उसके फंदे पर लटकता देख परिजनों ने उसे उतारकर हमीदिया अस्पताल ले गए थे। जहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया था। बच्ची की मौत की खबर से उसके परिजनों में कोहराम मच गया था। वहीं डॉक्टरों ने बच्ची की सूचना पुलिस को दी थी। सूचना मिलने पर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है।

यह भी पढ़ें:   MP Political News: 'ठाकुर साहब' ने सरेंडर किया या गिरफ्तार हुए

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!