Retired ACS: रिटायर्ड एसीएस की पत्नी ने दर्ज कराई एफआईआर

Share

Retired ACS: दिवंगत पति जो रिटायर्ड आईएएस थे उनकी पत्नी बनकर आईसीआईसीआई बैंक के खाते से 54 लाख रूपए कराए दूसरे खाते में ट्रांसफर, दो महीने जांच के बाद दर्ज हुआ दस्तावेजों की कूटरचना का मामला

Retired ACS
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश कैडर की रिटायर्ड आईएएस (Retired ACS) सलीना सिंह एक बार फिर सुर्खियों में हैं। उन्होंने भोपाल (Bhopal News) शहर में स्थित कोलार रोड थाने में दस्तावेजों की कूटरचना का मुकदमा दर्ज कराया है। रिटायर्ड एसीएस रहीं सलीना सिंह (Retired ACS Saleena Singh) का आरोप है कि उनके दिवंगत पति के खाते से पत्नी बनकर करीब 54 लाख रूपए दूसरे खाते में ट्रांसफर किए गए। जिस महिला पर यह आरोप है उसके ही खिलाफ चूना भट्टी थाने में प्लाॅट को फर्जी तरीके से भी बेचने का मामला पहले से दर्ज है।

पांच महीने पहले हुआ निधन

कोलार रोड थाना पुलिस के अनुसार यह प्रकरण 24 अगस्त की रात लगभग नौ बजे दर्ज किया गया। घटना मंदाकिनी में स्थित आईसीआईसीआई बैंक की है। शिकायत सलीना सिंह पुत्री स्वर्गीय सुरेंद्र पाल सिंह ने दर्ज कराई है। इस मामले में आरोपी ममता पाठक (Mamta Pathak) बनाई गई है। शिकायत दो महीने पहले सलीना सिंह ने की थी। जिसके बाद 692/22 धारा 465/471 (कूटरचना के लिए दंड और कूटरचित दस्तावेज का इस्तेमाल करने का प्रकरण) दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि उनके पति रिटायर्ड एमके सिंह है जिनका निधन हो चुका है। यह निधन 14 मार्च, 2022 को हुआ था। वे दानिश हिल्स व्यू में स्थित मकान नंबर 75 में रहते हैं। उनका आईसीआईसीआई बैंक में खाता था। इस खाते से पिछले दिनों 53 लाख, 70 हजार रूपए से अधिक की रकम निकाल ली गई। यह रकम ममता पाठक ने निकाली। आरोप है कि उन्होंने ऐसा करने के लिए पत्नी होने के दस्तावेज पेश किए थे। जो दस्तावेज बनाए गए थे वह एमके सिंह (MK Singh) के पते पर थे। जबकि ममता पाठक वहां नहीं रहती है।

पुलिस अफसरों को आया पसीना

Bhopal News
कोलार थाना, जिला भोपाल—फाइल फोटो

ममता पाठक ने आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) में ममता पाठक पत्नी एमके सिंह बताकर दस्तावेज  पेश किए। ममता पाठक दानिश हिल्स व्यू में ही मकान नंबर 86 में रहती है। ऐसा करने के लिए ममता पाठक ने स्टांप पेपर खरीदे थे। यह स्टांप पेपर उसने 2021 में खरीदे थे। जबकि उसको वसीयत बनाने के लिए 23 मार्च को को रजिस्टर्ड कराया गया। जबकि एमके सिंह का निधन 14 मार्च को हुआ था। पुलिस को जांच (Bhopal News) में पता चला है कि ममता पाठक ने फरवरी, 2021 में अपने पते पर आधार कार्ड बनाया था। जिसमें ममता पाठक पिता सिद्ध गोपाल पाठक होना बताया। इसी आधार कार्ड को ममता पाठक ने बदलते हुए उसमें पति एमके सिंह का नाम लिख लिया था। इतना ही नहीं पता भी उसने बदल लिया था। इस कारण कूटरचित दस्तावेज का मामला दर्ज किया गया। इधर, सलीना सिंह ने पुलिस को बताया कि आरोपी ने जिस रकम को हथिया लिया उस पर अधिकार डाॅक्टर महक सिंह और मन्नत सिंह का था। विधिक उत्तराधिकारियों के रकम हड़पने का आरोप था। लेकिन, पुलिस ने दस्तावेजों की कूटरचना का प्रकरण दर्ज किया है। इस मामले की जांच एसआई शैलेन्द्र सिंह कुशवाहा (SI Shailendra Singh Kushwaha) ने की थी। जबकि थाना प्रभारी चंद्रकांत पटेल (Chandrakant Patel) ने मीडिया से बचने के लिए फोन को डायवर्ट मोड पर कर दिया। वहीं एसीपी चूना भट्टी सुरेश दामले (ACP Suresh Daamle) फोन उठाने से बचते नजर आए।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: बहन के घर में भाई ने लगाई फांसी

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Retired ACS
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!