MP Political News: शिवराज की पहल से क्या दबेगी बदइंतजामी

Share

MP Political News: भयावह स्थिति से निपटने के लिए लोग मानने को राजी नहीं, अव्यवस्थाओं ने बिगाड़े कई समीकरण

MP Political News
पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

भोपाल। मध्य प्रदेश (MP Political News) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों मास्क अभियान को लेकर रोड शो कर रहे है। हर वर्ग और हर क्षेत्र के लोग इस कवायद को अपने लिहाज से आंकलन कर रहा है। विपक्ष इस मुहिम को नगरीय निकाय चुनाव से पहले जनता की नाराजगी को दूर करने अपनाया जा रहा स्टंंट बता रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ तो अस्पतालों के इंतजामों को लेकर दो दिन पहले बयान जारी करके पहले ही चुटकी ले चुके हैं। वहीं जनता कोरोना की लहर को समझने के लिए तैयार नहीं हैं।

स्वास्थ्य सत्याग्रह का आंदोलन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की थी कि मिंटो हॉल से वे स्वास्थ्य सत्याग्रह का आंदोलन शुरु करने का ऐलान किया था। लोगों को जागरुक करने के लिए सरकार ने अभियान शुरु कर दिया है। मिंटो हॉल से ही वह सारे सरकारी काम भी करेंगे। इससे पहले सोमवार को वे सड़कों पर निकले थे। उन्होंने मेरी सुरक्षा मेरा मास्क अभियान के तहत रोड शो किया था। इधर, आम नागरिक इस अभियान की तारीफ कर रही है। लेकिन, सरकारी मशीनरी में चल रही भर्राशाही को रोकने की भी वह मांग कर रही है।

कोलार के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र

MP Careless Healthcare
कोलार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बाहर लगी पर्चा बनाने लंबी कतार- File Photo

दो दिन पहले कोलार स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में जमकर बवाल मचा था। दरअसल, यहां पर्याप्त मात्रा में स्टाफ नहीं है। इस कारण अव्यवस्थाओं के चलते लोग परेशान हो रहे हैं। कई जगह पर वैक्सीन लगने के बाद बैठने या छांव के इंतजाम नहीं है। निजी अस्पतालों में जारी लूट—खसोट के भी आरोप लगे थे। जिसके बाद सरकार को सोमवार को टेस्ट की कीमत तय करके उसे जनता को बताने के लिए आदेश वायरल किया गया।

यह भी पढ़ें:   MP By Election: कमल नाथ को राष्ट्रीय महिला आयोग का नोटिस

यह भी पढ़ें: भोपाल के पूर्व महापौर जिस दल के हैं वह हिंदू समाज को लेकर आगे रहती है, लेकिन मंदिर को लेकर वे कौन सी राजनीति कर रहे

पूर्व सीएम का ट्वीट

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि जब भी प्रदेश में चुनौती आई तब मुख्यमंत्री धरना करने लगते हैं। मंदसौर में किसानों पर गोलीकांड हुआ तो उस वक्त भी धरना दिया गया था। ऐसा करने से स्वास्थ्य विभाग की सुविधाएं नहीं सुधरेंगी। इन आरोपों पर भाजपा प्रवक्ता हितेश बाजपेयी ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कुर्सी में रहते हुए जनता के बीच कभी नहीं आए। विपक्ष के नेता कभी भी इस विपदा के बीच कभी सड़क पर दिखाई नहीं दिए। इसलिए कांग्रेस के कार्यकर्ता मायूस रहते हैं।

स्थापना दिवस मनाने का तरीका

MP Political News
पीसी शर्मा, पूर्व मंत्री, विधायक कांग्रेस, फाइल फोटो

पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि यह राजनीतिक (MP Political News) स्टंट है। उन्होंने कहा कि सरकार के एक साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री ने कोरोना भगाने के लिए सायरन बजाकर जश्न मनाया था। अब भाजपा का स्थापना दिवस मनाना है। इसलिए सत्याग्रह की आड़ लेकर जश्न मनाया जा रहा है। शर्मा ने कहा कि सायरन बजाने या सत्याग्रह करने से कोरोना भाग जाएगा। अगर ऐसा है तो वह बयान जारी करे। भाजपा प्रवक्ता हितेश बाजपेयी ने कहा कि यह शर्मनाक राजनीति कर रहे है। यह संवाद जी मीडिया के एमपी—सीजी नेटवर्क में इंटरव्यू के दौरान नेताओं ने आरोप लगाए।

Don`t copy text!