MP IPS Posting News: सिंधिया के करीबी स्पेशल डीजी को प्रशिक्षण भेजा गया

Share

MP IPS Posting News: ढ़ाई साल पहले विवादित वीडियो के वायरल होने के बाद मिली थी ट्रांसपोर्ट कमिश्नर की कुर्सी

MP IPS Posting News
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस सेवा में 1989 बैच के भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी मुकेश कुमार जैन (IPS Mukesh Kumar Jain) को प्रशिक्षण शाखा में स्पेशल डीजी बनाया गया है। यह आदेश सोमवार को गृह विभाग की तरफ से जारी हुए हैं। जैन इससे पहले पुलिस मुख्यालय (MP IPS Posting News) में तैनात थे। इसके अलावा वे पांच महीने पहले ट्रांसपोर्ट कमिश्नर के पद से हटाए गए थे।

पक्ष और विपक्ष सभी जगह रसूख

मध्यप्रदेश ब्यूरोक्रेसी में मुकेश कुमार जैन काफी चर्चित नाम हैं। जैन तीन भाई है, जिसमें एक अन्य भाई उपेन्द्र जैन (IPS Upendra Jain) भी भारतीय पुलिस सेवा में 1991 बैच के अफसर है। वे भोपाल रेंज में आईजी भी रह चुके हैं। इसके अलावा तीसरे भाई देवेन्द्र जैन (Devendra Jain) दिलीप बिल्डकॉन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। मुकेश कुमार जैन दिल्ली स्थित एमपी हाउस में ओएसडी रहे हैं। इसके अलावा वे ज्योतिरादित्य सिंधिया (Minister Jyotiraditya Sindhiya) के साथ भी काम कर चुके हैं। मुकेश कुमार जैन को कमलनाथ सरकार जाने के बाद परिवहन आयुक्त की कुर्सी भी मिली थी। यह कुर्सी उस वक्त मिली थी जब पूर्व ट्रांसपोर्ट कमिश्नर और आईपीएस व्ही मधु कुमार बाबू (IPS V Madhu Kumar Babu) का लिफाफा लेते हुए एक वीडियो वायरल हुआ था। इस मामले की जांच उज्जैन लोकायुक्त पुलिस को सौंपी गई थी। मुकेश कुमार जैन मार्च, 2022 में एडीजी से स्पेशल डीजी बनाए गए थे। ऐसा करने के साथ ही उन्हें ट्रांसपोर्ट कमिश्नर से हटाकर पीएचक्यू अटैच किया गया था।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP IPS Posting News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: इंजीनियरिंग छात्रा नें फांसी लगाई
Don`t copy text!