MP Corrupt Officer: कमर्शियल टैक्स ऑफिसर भ्रष्टाचार मामले में फंसे

Share

MP Corrupt Officer: भोपाल के एंटी इवेजन ब्यूरो में तैनात अधिकारी और उनके भाई पर शिकंजा कसाया, सेवा में रहते हुए 120 गुणा अधिक संपत्ति पर निवेश करने का आरोप

MP Corrupt Officer
सांकेतिक ग्राफिक डिजाईन टीसीआई।

भोपाल। वाणिज्यिक कर विभाग के एक अधिकारी पर आर्थिक प्रकोष्ठ विंग ने शिकंजा कसा है। आरोप है कि उनकी सरकारी सेवा को 14 साल की अवधि हुई है। इस दौरान प्राप्त होने वाली आय से करीब 120 गुणा अधिक संपत्ति ​में निवेश किया। ऐसा करने के लिए उन्होंने अपने भाई के नाम का इस्तेमाल किया। जबकि दस्तावेजों में उनकी कोई ठोस आय का साधन सामने नहीं आया हैं। मामले की जांच इंदौर ईओडब्ल्यू यूनिट (MP Corrupt Officer) ने की थी। जांच के दौरान ईओडब्ल्यू ने प्रकरण से संबंधित कई दस्तावेज भी जब्त किए हैं। वहीं एफआईआर से उन प्रकरणों की जांच भी घेरे में आ गई है जिसका निराकरण आरोपों में घिरे वाणिज्यिक कर अधिकारी ने किया था।

इन धाराओं में दर्ज किया गया मामला

जानकारी के अनुसार इस मामले में आरोपी दिलीप कुमार राठौर​ (Dilip Kumar Rathore) है। वे 2008 में वाणिज्यिक कर विभाग की सेवा में आए थे। वे इंदौर में 2013 तक रहे। इसके बाद प्रमोशन मिलने पर वे खंडवा चले गए थे। इसी अवधि में दिलीप कुमार राठौर ने करीब सवा एक करोड़ रूपए का निवेश किया। यह निवेश इंदौर और खंडवा में पाया गया। जिसमें उन्होंने अपने भाई विजय राठौर (Vijay Rathore) के साथ संपत्ति खरीदी। जांच में पता चला कि इंदौर के कैलोदहाला तहसील में एक हजार और 1500 स्क्वायर फीट के दो प्लॉट हैं। इन दोनों प्लॉट की कीमत 11 लाख रूपए हैं। वहीं इंदौर के मालवा काउंटी में 1690 स्क्वायर फीट पर आलीशान बंगला है। जिसकी कीमत ईओडब्ल्यू ने 95 लाख रूपए आंकी है। ईओडब्ल्यू (EOW) की जांच में पता चला कि 2008 से 2022 के बीच दिलीप कुमार राठौर को करीब 56 लाख रूपए का वेतन मिला था। जबकि उनकी संपत्ति में निवेश करीब सवा एक करोड़ रूपए से अधिक का पाया गया। इसके अलावा नकदी, जेवरात और इंदौर के गर्ल्स हॉस्टल की अभी पड़ताल की जाना बाकी है। ईओडब्ल्यू ने दावा किया है कि भोपाल के नवी बाग स्थित सुख सागर फेज—4 की संपत्ति की जांच की जाए तो यह रकम बहुत ज्यादा होगी। जांच केे बाद ईओडब्ल्यू ने 8 दिसंबर को 100/22 धारा 13—1—बी—/13—2— (भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला) दर्ज किया गया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Corrupt Officer
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: शादी के लिए तैयार नहीं हुई तो अगवा किया
Don`t copy text!