MP Vidhansabha News: एमपी में स्कूल एजुकेशन के बुरे हाल…

Share

MP Vidhansabha News: राजधानी से महज डेढ़ सौ किलोमीटर दूर प्रायमरी, सेकेंडरी और हाई स्कूल की पूर्व मंत्री के पूछे गए सवाल से खुली पोल, शिक्षा मंत्री देते रहे एक्सक्यूज

MP Vidhan Sabha News
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश में गर्वमेंट एजुकेशन सिस्टम लगभग  खत्म सा हो गया है। यह बात हम यूं ही नहीं कह रहे हैं। दरअसल, मध्यप्रदेश में सोमवार से विधानसभा (MP Vidhansabha News) का सत्र शुरू हुआ है। इसी सत्र के दौरान कमलनाथ सरकार  में ऊर्जा मंत्री रहे बापू सिंह तंवर (Ex Minister Bapu Singh Tanwar) के पूछे गए सवाल पर सरकार बेनकाब हो गई। उन्होंने सदन में राजगढ़ जिले के स्कूल शिक्षा विभाग से जुड़ा सवाल दागा था। सवाल पूछने वाले विधायक राजगढ़ जिले के खिलचीपुर विधानसभा से विधायक भी है। मंत्री ने पटल पर जवाब पेश किया जिसके बाद उन्हें अहसास हो गया कि वे घिर गए हैं तो वे विधायक को स्कूल की समस्या का जल्द निराकरण करने का आश्वासन देते रहे।

अतिथियों के भरोसे राजगढ़ में दिलाई जा रही शिक्षा

बापू सिंह तंवर ने सवाल पूछा था कि राजगढ़ जिले में कितने स्कूल है। जिसके जवाब में मंत्री इंदर सिंह परमार (Minister Inder Singh Parmar) ने बताया 413 प्राथमिक, 151 माध्यमिक और 16 उच्चतर माध्यमिक शालाएं हैं। इन स्कूलों में शिक्षकों की संख्या के जवाब में मंत्री ने कहा कि जिले में 1498 पद मंजूर हैं। यानि हर दो स्कूलों में पांच शिक्षक राजगढ़ में हैं। मंत्री को जब अहसास हुआ कि वे विपक्ष के चक्रव्यूह में फंस गए हैं तो उन्होंने सदन को बताया कि शिक्षकों की कमी है। जिसको वे अतिथि शिक्षकों के जरिए पूर्ति कर रहे हैं। सरकार ने पिछले साल ही 20,326 पदों की भर्ती की है। इसके अलावा राजगढ़ जिले में 469 अतिथि शिक्षक है। इसमें उच्च माध्यमिक में 90, माध्यमिक में 278 और प्राथमिक में 101 गेस्ट टीचर पढ़ा रहे हैं। भोपाल से राजगढ़ की दूरी महज 150 किलोमीटर दूर है। इसके बावजूद सरकारी स्कूलों के हालात काफी बदतर हैं। यह बात विधानसभा  में पूछे गए एक जिले के स्कूलों की संख्या से सार्वजनिक हो गई है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Vidhansabha News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: नवविवाहिता समेत दो लोगों ने फांसी लगाई
Don`t copy text!