Jabalpur Crime News: 24 घंटे बाद भी नहीं पकड़ाया आरोपी, नाराज परिवार सड़क पर उतरा

Share

Jabalpur Crime News: चौराहे पर शव रखकर प्रदर्शन, प्रेम-प्रसंग मामला होने का शक

Jabalpur Crime News
चक्काजाम करते तरुण के परिजन

जबलपुर। किशोर की हत्या (Jabalpur Murder Case) के मामले में पुलिस को 24 घंटे बाद भी आरोपी का सुराग नहीं मिला। जबकि पुलिस ने दावा किया था कि उसको आरोपी का सुराग मिल गया है। इस बात से गुस्साए परिजनों ने शुक्रवार को चौराहे पर शव रखकर प्रदर्शन किया। विरोध के चलते क्षेत्र में जाम की स्थिति बन गई थी। हत्या की घटना मध्य प्रदेश के जबलपुर (Jabalpur Crime News) जिले की है। स्थिति सामान्य करने के लिए विधायक की मदद ली गई। इससे पहले पुलिस के आला आधिकारी परिवार को समझाने के लिए संघर्ष कर रहे थे।

चौक की ओर जाने वाले रास्तों में लगा जाम

गुरुवार को 16 वर्षीय किशोर की हत्या हो गई थी। पुलिस को अब तक आरोपियों का कोई सुराग नहीं मिला है। इससे आक्रोशित परिजनों ने शुक्रवार को शहर के रानीताल चौक पर किशोर का शव रख कर प्रदर्शन किया। मरने वाले किशोर का नाम तरुण अहिरवार (Tarun Ahariwar) है। तरुण रवि नगर का रहने वाला है और नौंवी कक्षा में पढ़ता था। सूचना मिलने पर  विजय नगर टीआई प्रशिक्षु आईपीएस प्रियंका शुक्ला (IPS Priyanka Shukla), सीएसपी कोतवाली दीपक मिश्रा (CSP Deepak Mishra), सीएसपी अधारताल अशोक तिवारी (CSP Ashok Tiwari) परिजनों के पास पहुंचे और समझाने का प्रयास किया। जबलपुर उत्तर मध्य के विधायक विनय सक्सेना (MLA Vinay Saksena) ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर परिजनों का दुख साझा किया।

आश्वासन नहीं लिखित में चाहिए

आला अधिकारियों ने आरोपियों को जल्द पकड़ने का भरोसा परिजनों को दिलाया। लेकिन परिजन इस बात को मानने तैयार नहीं थे। परिवार की मांग थी कि पुलिस उन्हें लिखित में दे की आरोपी कब तक पकड़े जाएंगें। जिसपर टीआई प्रियंका शुक्ला ने कागज में लिखकर दिया की आरोपियों पर जल्द कार्रवाई की जाएगी। कागज में आधारताल एसडीएम ने भी साइन किए। उन्होंने कहा कि पंद्रह दिन के अंदर आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा। लिखित में आश्वासन मिलने के बाद परिजनों का गुस्सा शांत हुआ। इसके बाद वह शव को अंतिम संस्कार के लिए ले गए। थोड़ी दूर जाकर तरुण की मां बेहोश होकर गिर पड़ीं। जिन्हें परिजनों ने संभाला।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: नशे में धुत्त व्यक्ति ने फांसी लगाई

किसी भी आपराधिक गतिविधि में लिप्त नहीं था तरुण

परिजनों का कहना था कि तरुण पढ़ने-लिखने वाला लड़का था। वह किसी भी आपराधिक गतिविधि में लिप्त नहीं था। उसकी बेरहमी से हत्या की गई थी। प्रदर्शन लगभग एक घंटे तक चला। पुलिस को शक है कि हत्या के पीछे प्रेम प्रसंग कारण हो सकता है। पुलिस तरुण के करीबियों से पूछताछ कर रही है। बता दें कि बुधवार रात आठ बजे तरुण घूमने का बोलकर निकला था। लेकिन, वापस नहीं लौटा था। गुरुवार को उसकी लाश महाकौशल स्कूल के पीछे झाड़ियों में मिली थी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!