MP Political News: कृषि मंत्री बोले ‘नेहरु जी ने गलती की जो देश में उद्योग धंधे लगाए’

Share

MP Political News: केन्द्र सरकार के कृषि अध्यादेशों के फायदे गिनाने पत्रकारों के सवालों पर दिया जवाब

MP Political News
पत्रकारों को जवाब देते मंत्री कमल पटेल

भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार (MP Political News) में कृषि मंत्री कमल पटेल (Minister Kamal Patel) ने विवादित बयान देकर विपक्ष को मुद्दा दे दिया है। मंत्री ने भोपाल स्थित दीन दयाल भवन (Bhopal BJP Office) में किसान विधेयकों को लेकर अपना नजरिया बताने के लिए पत्रकारों को बुलाया था। जब पत्रकारों ने सवाल पूछा तो उन्होंने यह बयान दिया। कमल पटेल ने कहा कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु (Former PM Jawahar Lal Nehru) ने यदि कृषि आधारित उद्योग लगाए होते तो ऐसा नहीं होता। लेकिन, उन्होंने कारखाने लगाकर देश की आर्थिक व्यवस्था को चौपट कर दिया। अब देश सुधार की तरफ जा रहा है। इसलिए कांग्रेस को इस बात का दुख हो रहा है।

किसान को मजबूत करना हमारा लक्ष्य

कृषि मंत्री ने कहा कि भारत में किसान को केवल खेती करने के लिए बना दिया था। उसके सामने दूसरे कोई विकल्प नहीं थे। इसलिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने किसानों की व्यवस्था को लेकर महत्वपूर्ण बदलाव किया है। उन्होंने किसानों के आस—पास सक्रिय बिचौलियों की व्यवस्था को समाप्त करने के लिए दो विधेयकों को पारित किया है। इससे किसान अपने उत्पाद से लेकर जमीन में व्यवसायिक गतिविधियां कर सकेगा। इससे किसान की आय अच्छी होगी और वह मजबूत होगा। भाजपा किसानों को कारोबार करने से लेकर कारोबारी बनने के विकल्प देने जा रही है। इसलिए बिचौलियों को लेकर राजनीति कर रही कांग्रेस को पीड़ा हो रही है। इस कारण वह विधेयक को लेकर गलत संदेश फैला रही है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Rape Case : क्लासमेट के घर ले जाकर पढ़ाई की मां ने खोली कलई

कांग्रेस ने किसानों के हक मारे

MP By Election News
भोपाल में प्रदेश भाजपा मुख्यालय

कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) ने बताया कि भाजपा सरकार में किसानों को फसल नुकसान पर शत—प्रतिशत बीमा होता था। लेकिन, तत्कालीन कांग्रेस सरकार के मुखिया कमल नाथ (EX CM Kamal Nath) ने इस व्यवस्था को 75 फीसदी कर दिया। पटेल ने दावा किया ऐसा इसलिए किया गया ताकि सरकार को किसानों के लिए अतिरिक्त बीमा फसल के रुप में राजस्व न देना पड़े। हमारी सरकार ने आकर यह व्यवस्था बदल दी है। हम शत—प्रतिशत फसल बीमा कर रहे हैं। फसल बीमा के कम भुगतान पर उन्होंने कहा कि इसको लेकर मैंने अफसरों से जांच के लिए कहा है। इसके अलावा कम से कम 2000 रुपए फसल बीमा के रुप में देने के आदेश दिए है।

कमल नाथ ने किया था वादा हमने नहीं

MP Political News
भोपाल में बिल के खिलाफ विधानसभा का घेराव करने जाते हुए किसान जिन्हें बोर्ड आॅफिस के पास रोककर एसडीएम ने ज्ञापन लिया

कृषि मंत्री कमल पटेल ने बताया कोरोना काल में किसानों का व्यापार घटा नहीं। पूरा कारोबार चलता रहा। इससे साफ है कि किसान से संबंधित कारोबार का नजरिया पंडित जवाहर लाल नेहरु ने सोचा होता तो आज जीडीपी गिरने जैसी बातें नहीं आती। पूरे कोरोना काल में किसान काम कर रहे थे। उनकी बदौलत भारत में अनाज बांटने से लेकर बनाने का काम हुआ। कमल पटेल से जब एक सवाल पूछा गया कि क्या वह कमल नाथ के वादे को पूरा करेगी। उन्होंने कहा यह काम पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने किया था। यह हमने नहीं किया था। इसलिए सवाल पैदा ही नहीं होता।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!