MP CM Speech: लोगों को डर था कि मुख्यमंत्री कुछ बड़ा बताने वाले हैं

Share

MP CM Speech: अपने 20 मिनट के भाषण में नाम न लेते हुए कांग्रेस को 10 मिनट तक इसलिए कोसा

MP CM Speech
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान— फाइल फोटो

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल और इंदौर में कोरोना की दूसरी लहर आई हुई है। इसको देखते हुए कारोबारी जगत काफी डरा हुआ है। कर्फ्यू, लॉक डाउन जैसे आसार के बीच सोमवार शाम अचानक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का जनता के नाम संदेश (MP CM Speech) प्रसारित होने की खबरें चलने लगी। लोगों को लगा कि शायद कोरोना के चलते कोई निर्णय मध्य प्रदेश सरकार के मुखिया देने वाले हैं। इसलिए प्रदेश के कई शहरों और गांव में लोग टेलीविजन से चिपक गए।
उन्होंने कोरोना को लेकर चिंता जताई। यह लोगों की धड़कनें और ज्यादा बढ़ाने जैसी थी। इसी बीच मुख्यमंत्री ने उमा भारती के कार्यकाल से मध्य प्रदेश की शुरु हुई भाजपा की यात्रा को याद करते हुए कांग्रेस को कोसते चले गए। आखिर में नजरें गड़ाकर टेलीविजन देख रही कई जनता ने राहत की सांस ली।
बदहाल प्रदेश को हमने खुशहाल किया था, सवा एक साल में उसको पूरा चौपट किया

कोरोना का संकट अभी टला नहीं

MP CM Speech
शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश शासन— फाइल फोटो

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भाषण की शुरुआत भांजे—भांजियों कहते अपना संबोधन शुरु किया। उन्होंने कहा कि कोरोना कहर ढ़ा रहा था। इसके बाद पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की कविता हार नहीं मानूंगा… बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) के संबल और मार्गदर्शन और जनता के सहयोग की वजह से प्रदेश में अंधेरा छंटा। हमें प्रदेश कठिन परिस्थितियों में मिला था। अ​र्थव्यवस्था चौपट हो चुकी थी। अस्पतालों में कोई बेहतर इंतजाम नहीं थे। दिनरात करके हमने उसको पटरी पर लेकर आए। उन्होंने कहा कि कोरोना का संकट अभी टला नहीं है। दूसरी लहर आई है वह पहली के मुकाबले खतरनाक दिखाई दे रही है। इसलिए सावधानी बरतें यह बोलते हुए उन्होंने यह संकेत दिए कि वे वाकई कुछ बताने वाले हैं।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में माफिया को दफनाने का दावा करने वाले मुख्यमंत्रीको राजधानी के इन हालातों पर सवाल अफसरों से जरुर पूछना चाहिए

यहां से गिनाई सरकारी योजना

फेस मास्क, सोशल डिस्टिेसिंग और हाथ धोने की उपाय को बेहतर अभ्यास बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कामयाब होने के लिए यह सबसे बेहतर उपाय हैं। भाजपा की सरकार उमा भारती के प्रयासों से बनी। हमें बदहाल प्रदेश मिला था। हमने पहले ही कार्यकाल में सड़कें बनाकर प्रदेश के नागरिकों को बता दिया कि विकास कैसे होता है। उन्होंने कहा कि जन हितैषी कार्यक्रम जैसे लाडली लक्ष्मी योजना लॉच की। हमने चौबीस घंटे बिजली देने का काम किया। मेरी इस घोषणा का मजाक भी उ़ड़ाया गया। लेकिन, हमने वह भी कर दिखाया। प्रदेश में जनता के लिए सरकारी योजनाओं को लाभ पहुंचाने के लिए एप्प बनाया। जिसकी मदद से लोगों की समस्याओं का निवारण कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:   MP Assembly : मत विभाजन में ही टूटी भाजपा, 2 विधायक कांग्रेस में शामिल

आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश

MP CM Speech
बैठक में चर्चा करते मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान- File Image

प्रदेश में सिंचाई की क्षमता बढ़ गई। नर्मदा को क्षिप्रा, पार्वती समेत दूसरी नदियों को जोड़कर सिंचाई के क्षेत्र में सफलता हासिल की। सिंहस्थ के सफल आयोजन हमने किए। कृषि कर्मण अवार्ड पाने का इतिहास भी हमारे पास है। पिछली सरकार ने सवा एक साल में कोई सार्थक काम नहीं किया। प्रधानमंत्री मोदी ने आपदा को अवसर में बदला। उस बात से प्रेरित होकर मैंने भी आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश योजना शुरु की है। इसमें कई क्षेत्रों के विशेषज्ञों से राय लेकर उसका रोडमैप बनाया गया है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

कोरोना में मदद पहुंचाई

मुख्यमंत्री ने किसानों को संबोधित (MP CM Speech) करते हुए कहा कि उनको दाम सही मिले इसके लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि गेहूं, चना, मसूर, सोयाबीन की फसलें खरीदेंगे। उन्होंने असमय बारिश से हुए नुकसान का मुआवजा देने की भी घोषणा की है। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में जीडीपी का आकार भी बदल रहा है। सरकार शिक्षा, चिकित्सा, रोजगार, मकान, अनाज से लेकर कई क्षेत्रों में काम कर रही है। दूसरे प्रदेश के नागरिकों को कोरोना काल में जूते—चप्पल, भोजन से लेकर बस की मदद से उनके घर पहुंचाने की हरसंभव मदद की। गरीब को मकान देने से लेकर उनको सरकारी राशन की स्कीम भी बताई। यहां तक गंभीर तरीके से भाषण सुन रही जनता को थोड़ी राहत मिली।

स्वरोजगार योजन होगी लांच

मुख्यमंत्री (MP CM Speech) ने कहा कि हमारा संकल्प है कि हर घर में नल जल योजना के तहत पानी पहुंचाया जाएगा। गांव को शहरों से जोड़ने का काम भी चल रहा है। सीएम राज्य स्कूल खोलने का भी काम किया जा रहा है। आयुष्मान भारत योजना में दो करोड़ कार्ड हमने बनाए हैं। भोपाल में ग्लोबल स्किल पार्क बनाया जा रहा है। ताकि युवाओं को नौकरी मिल सके। पीएम स्ट्रीट वेंडर योजना के तहत काम दिलाया जा रहा है। सरकारी नौकरियों में भर्ती से प्रतिबंध हटाया गया है। सभी लोगों को सरकारी नौकरी नहीं मिल सकती। इसलिए स्वरोजगार योजना के तहत भी सरकार काम कर रही है। ब्याज अनुदान योजना जल्द आपके सामने आने वाली है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Theft Case: ट्रांसपोर्ट कारोबारी की कार से नोटों से भरा बैग चोरी

माफिया की मुहिम

MP CM Speech
शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री फाइल तस्वीर

महिला स्व सहायता समूहों के जरिए भी रोजगार का इंतजाम किया जाएगा। इस साल करीब 13 सौ करोड़ रुपए का बजट दे चुके हैं। लोकल फॉर वोकल स्कीम के तहत भी काम किया जा रहा है। मध्य प्रदेश को पर्यटन क्षेत्र में पहचान दिलाने के लिए काम किया जा रहा है। धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भी इंतजाम किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कोरोना वॉरियरों को भी याद (MP CM Speech) किया। उन्होंने लोगों की मदद करने की भी अपील की। यहां एक बार फिर भोपाल और इंदौर की जनता कुछ देर के लिए सकते में आई। हालांकि मुख्यमंत्री ने पर्यावरण की चिंता वाली जानकारी दी तो फिर राहत नजर आई। मुख्यमंत्री चौहान ने माफिया के खिलाफ चलाई गई मुहिम के संबंध में सरकार की तरफ से किए गए प्रयासों को बताया।

प्रदेश में कोरोना की रफ्तार बढ़ी

मध्य प्रदेश में कोरोना की रफ्तार में इजाफा हो गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना संकट काल में ही कुर्सी भी संभाली थी। मुख्यमंत्री का एक साल का कार्यकाल भी पूरा हुआ है। प्रदेश में भोपाल और इंदौर में कोरोना की संख्या फिर से बढ़ी है। मुख्यमंत्री ने मेरी सुरक्षा मेरा मास्क नाम से अभियान भी चलाया है। इसी अभियान के तहत सोमवार को शिवाजी नगर स्थि​त हॉकर्स कार्नर पर पहुंचकर मास्म बांटते हुए उसे पहनने की अपील की थी। इसके अलावा 23 मार्च से सायरन मुहिम चलेगी।

Don`t copy text!