MP News : प्रदेश को इंटीग्रेटेड रोड एक्सीडेंट डाटाबेस में दूसरा स्थान मिला

Share

MP News : पुलिस विभाग के प्रयासों की गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने सराहा

MP News
डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा, गृह मंत्री, मप्र शासन

भोपाल। अखिल भारतीय इंटीग्रेटेड रोड एक्सीडेंट डाटाबेस (iRAD) एप प्रोजेक्ट के 6 पायलट राज्यों में मध्यप्रदेश पुलिस का प्रदर्शन सराहनीय रहा है। मध्यप्रदेश (MP News) ने इंटीग्रेटेड रोड एक्सीडेंट डाटाबेस में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। इस घोषणा पर गृह मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा (Minister Narrottam Mishra) ने मध्यप्रदेश पुलिस को उपलब्धि और प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएँ और बधाई दी है।

दो जिलों का प्रदर्शन रहा बेहतर

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (पीटीआरआई) डीसी सागर (ADG DC Sagar) ने बताया कि प्रदेश में होने वाली सड़क दुर्घटनाओं की रियल टाइम डेटाबेस एंट्री के लिए इंटीग्रेटेड रोड एक्सीडेंट डाटाबेस (iRAD) एप प्रदेश में पॉयलट प्रोजेक्ट के रूप में सबसे पहले शुरु हुआ था। जिसमें 11 लाइट हाउस जिलों को जोड़ा गया। एप के जरिए दुर्घटनाओं के डेटाबेस के विश्लेषण से भविष्य में होने वाली सड़क दुर्घटनाओं को रोकने रणनीति बनाने और क्रियान्वित करने में सहायता मिली। इन परिणामों के बारे में ही रिपोर्ट मध्य प्रदेश सरकार की तरफ से भेजी गई थी।

यह भी पढ़ेः एमपी के सरकारी आयोजन में टीचर ने ऑक्सीजन को लेकर ऐसा दिया सुझाव, अफसरों को लगा नेशनल न्यूज न बने इसलिए आगे बोलने से रोका

इन राज्यों का हुआ था चुनाव

MP News
भारतीय पुलिस सेवा के अफसर डीसी सागर

गृह विभाग की तरफ से जारी बयान में बताया गया है कि इंटीग्रेटेड रोड एक्सीडेंट डाटाबेस (iRAD) एप को शुरूआत में 6 पॉयलट राज्य (उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh), कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, राजस्थान (Rajasthan) तथा मध्यप्रदेश) में शुरू किया गया था। उन्होंने बताया प्रदेश में 47 जिलों में यह क्रियाशील है। जिला सागर (Sagar) और जबलपुर का प्रदर्शन उत्कृष्ट रहा है। जिला सागर एवं जबलपुर (Jabalpur) का सड़क दुर्घटनाओं का डाटा एंट्री क्रमश: 816 (13%) एवं 801 (13%) रहा है। उन्होंने कहा कि iRAD एप के क्रियान्वयन में पुलिस विभाग एवं एनआईसी के अधिकारियों का योगदान महत्वपूर्ण हैं।

यह भी पढ़ें:   MP News: उज्जैन में वैक्सीन लगाने गए दल पर हमला
Don`t copy text!