Bhopal Suicide Case: आर्थिक तंगी से जूझ रहे व्यापारी ने फांसी लगाई

Share

Bhopal Suicide Case: लॉक डाउन के कारण कारोबार में हो रहा था नुकसान, पुलिस ने मर्ग किया कायम

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। लॉक डाउन के बुरे नतीजे सामने आने लगे हैं। हालांकि यह फैसला कोरोना जैसी वैश्विक महामारी की रोकथाम के लिए लिया गया था। लेकिन, इसकी वजह से कई सेक्टरों में आर्थिक मंदी (Lock Down Side Effect) आ गई है। ताजा मामला मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) से सामने आया है। घटना छोला मंदिर थाना क्षेत्र की है। यहां आर्थिक तंगी से जूझ रहे एक दुकानदार ने फांसी (Bhopal Suicide Case) लगा ली। पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

ड्राइवरी करता है भाई

छोला मंदिर थाना पुलिस ने बताया जितेंद्र शाक्या (Jitendra Shakya) पिता स्वर्गीय नारायण सिंह उम्र 32 साल निवासी लीलाधर कॉलोनी भानपुर (Bhanpur Suicide Case) छोला में रहता है। जितेंद्र ने बताया वह ड्राइवरी का काम करता है। जिस मकान में जितेंद्र रहता है उसमें मकान के नीचे उसके बड़े भाई—भाभी रहते हैं। भाई धर्मेंद शाक्या (Dharmendra Shakya Suicide) भानपुर में चाय की दुकान चलाता था। बुधवार रात भाई शराब के नशे में घर लौटा। तभी भाभी आशा शाक्या को मोतीझरा होने के कारण दोनों बच्चों को लेकर मां के कमरे में सोने गई थी।

यह भी पढ़ें: स्पेशल डीजी जो पत्नी के स्टिंग में बुरी तरह से फंसे अब नौकरी पर बन आई

खिड़की तोड़कर दरवाजा खोला

जितेंद्र ने बताया भाभी सुबह 6:30 बजे उठकर उनके कमरे में गई तो भाई दरवाजा नहीं खोल रहा था। उसने यह बात जितेंद्र को बताई थी। जितेंद्र उसके साथ नीचे गया। लेकिन, धर्मेंद्र (Dharmendra Shakya Hanging Case) ने दरवाजा नहीं खोला। अनहोनी की आशंका जताते हुए जितेंद्र ने खिड़की खोलकर देखा। उसने देखा धर्मेंद्र पंखे से साड़ी का फंदा बनाकर लटका था। जितेंद्र खिड़की से कमरे में गया और दरवाजा खोला था। उसने फंदे से भाई को उतारा था। लेकिन, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। जांच अधिकारी एसआई वीरेंद्र कुमार अहिरवार (SI Virendra Kumar Ahirwar) ने बताया जितेंद्र चाय की दुकान चलाता था। लॉक डाउन के कारण वह दुकान ठीक से नहीं चल रही थी। इसी कारण वह आर्थिक तंगी से जूझ रहा था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: पुरानी रंजिश पर दो गुट भिड़े

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!