‘राजनीतिक संरक्षण स्थायी नहीं होता, सावधान रहें अधिकारी’

Share

कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने अधिकारियों को फिर चेताया

Kamalnath
कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री, मध्यप्रदेश

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने एक बार फिर अधिकारियों को चेताया है। प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों की कार्यप्रणाली से नाराजगी जताते हुए कमनलाथ ने सावधान किया है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक संरक्षण स्थायी नहीं होता। इससे पहले भी कई बार कमलनाथ अधिकारियों को हिदायत देते नजर आए है। चुनावी सभाओं में वें कहते थे कि 10 के बाद 11 तारीख भी आती है। एक बार फिर उन्होंने अपनी बात दोहराई है।

चुनाव आयोग पर सवाल

कमलनाथ ने अपने बंगले पर शूट किया गया वीडियो शेयर करते हुए चुनाव आयोग पर सवाल उठाए है। उन्होंने कहा कि 3 तारीख को मतदान के दिन सुमावली, मुरैना और भिंड के मेहगांव में गोलीबारी हुई। कई मतदाताओं को वोट डालने से रोका गया। लिहाजा कांग्रेस ने इन जगहों पर री-पोलिंग की मांग की थी। लेकिन चुनाव आयोग इस पर फैसला नहीं कर पा रहा। लिहाजा सवाल उठना लाजमी है। कमलनाथ ने कहा कि इन घटनाओं के तमाम सबूत कांग्रेस के पास है। 10 नवंबर को परिणाम के बाद सबूत सामने लाए जाएंगे।

सुनिए क्या कहा कमलनाथ ने

YouTube video

मुरैना में कांग्रेस का प्रदर्शन

सुमावली में चुनाव के दौरान हुई गोलीबारी के विरोध में कांग्रेस मुरैना में धरना दे रही है। भोपाल से पूर्व मंत्री जीतू पटवारी और कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी मुरैना पहुंचे है। सुमावली में री-पोलिंग की मांग को लेकर कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा गया है। मुरैना में पूर्व मंत्री लाखन सिंह यादव, वरिष्ठ कांग्रेस नेता रामनिवास रावत, अशोक सिंह मौजूद है।

यह भी पढ़ेंः हार के डर से दोबारा सौदेबाजी में जुटी भाजपा

यह भी पढ़ें:   Bhopal Dowry Case: बिना मंडप की दुल्हन

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!