MP Cheating Case: दस्तावेज चोरी करके लिया पर्सनल लोन

Share

रीवा से आई केस डायरी के बाद भोपाल पुलिस ने दर्ज किया जालसाजी का मामला

Bhopal Fraud Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। यदि आप अपने दस्तावेज को लेकर लापरवाह है तो यह खबर आपसे जुड़ी है। अपने कीमती दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, वोटर कार्ड या अन्य कोई प्रमाण ऐसे ही किसी को मत थमा दीजिए। मामला (Bhopal Cheating Case) मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के एमपी नगर थाने में दर्ज हुआ है। मामला जालसाजी (Madhya Pradesh Jalsaji Case) से जुड़ा है। इसमें पुलिस को एक संदेही की तलाश है। आरोपी ने दस्तावेज चोरी करने के बाद बैंक से पर्सनल लोन ले लिया था।

मामा के घर आया था
एमपी नगर पुलिस ने बताया कि 23 जून को जालसाजी का मुकदमा दर्ज किया गया है। इस मामले में फिलहाल आरोपी अज्ञात है। यह एफआईआर रीवा जिले के समान थाने से मिली थी। वहां जीरो पर विजय गुप्ता (Vijay Kumar Gupta Ford Case) पिता रघुनाथ प्रसाद उम्र 25 ने दर्ज कराई थी। परिवार मूलत: सीधी का रहने वाला हैं उसने पुलिस को बताया कि भोपाल में उसके मामा रहते हैं। वहां पर वह दिसंबर, 2019 में गया था। तभी उसके दस्तावेज एक संदेही ने चोरी कर लिए थे। इस बात से वह बेखबर था।
ऐसे पता चला फर्जीवाड़ा
मामले की जांच कर रहे अधिकारी एसआई आरपी यादव ने बताया कि विजय गुप्ता के नाम पर एमपी नगर स्थित इंडिया बूल से पर्सनल लोन लिया गया था। यह पर्सलन लोन 40 हजार रुपए का था। जिसकी किस्त जमा नहीं की जा रही थी। इस कारण बैंक ने विजय गुप्ता को नोटिस भेजा। विजय गुप्ता ने बैंक को बताया कि उसने कोई पर्सनल लोन ही नहीं लिया। फिर मामला पुलिस के पास पहुंचा तो यह फर्जीवाड़ा उजागर हुआ।
चोरी से खोला खाता

विजय गुप्ता के आधार कार्ड और वोटर कार्ड चोरी किए गए थे। इसकी मदद से भोपाल के हमीदिया रोड स्थित कोटक महिन्द्रा में बचत खाता खुलवाया गया। इस खाते में दस्तावेज विजय गुप्ता के लगे हैं। लेकिन, फोटो किसी अन्य व्यक्ति की लगी है। इसी खाते में इंडिया बूल से लिया गया पर्सनल लोन का भुगतान हुआ था। पुलिस का दावा है कि इस मामले में आरोपी का पता लगा लिया है। जल्द उसको गिरफ्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Rape Case: समझौते में पति—पत्नी को लेना था तलाक, अब बलात्कार की हो गई एफआईआर
खबर के लिए ऐसे जुड़े
हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।
Don`t copy text!