कन्यादान योजना की राशि घटाएगी शिवराज सरकार, कांग्रेस का तीखा प्रहार

Share

कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी का तीखा प्रहार, कहा- हद में रहे सरकार

Kanyadan Yojana
प्रेम सिंह पटेल, मंत्री, मध्यप्रदेश, फाइल फोटो

भोपाल। शिवराज सरकार (Shivraj Govt) कन्यादान योजना (Kanyadan Yojana) की राशि घटाने की तैयारी कर रही है। कमलनाथ सरकार (Kamalnath Govt) ने राशि को बढ़ाकर 51 हजार रुपए कर दिया था। अब इसे दोबारा 28 हजार रुपए ही करने की योजना है। न्यूज चैनल को दिए बयान में मंत्री प्रेम सिंह पटेल (Pram Singh Patel) ने ये बड़ा खुलासा किया है। सामाजिक न्याय मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा कि कन्यादान योजना के 51 हजार देने के फैसले पर शिवराज सरकार रोक लगा सकती है। कन्यादान योजना में सरकार 28 हजार की ही राशि देगी । बीजेपी सरकार के पिछले कार्यकाल में कन्यादान योजना में 28 हजार की ही राशि दी जाती थी। इस मामले में कांग्रेस ने शिवराज सरकार पर तीखा प्रहार किया है।

हद में रहे सरकार

इस मामले में कांग्रेस विधायक कुणाल चौधरी की तीखी प्रतिक्रिया सामने आई है। चौधरी ने कहा कि शिवराज सरकार हद में रहे। कमलनाथ सरकार द्वारा बढ़ाई गई राशि घटाई गई तो कांग्रेस आंदोलन करेगी। बेटियों के खिलाफ योजना में बदलाव किया गया तो कांग्रेस मंत्री के घर में घुस जाएगी।

कुणाल चौधरी का बयान

सड़क पर उतरेगी कांग्रेस

वहीं कन्यादान योजना की राशि घटाए जाने के बयान पर कांग्रेस ने तीखा प्रहार किया है। मध्यप्रदेश कांग्रेस मीडिया सेल के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने कहा कि शिवराज सरकार एक तरफ बेटी बचाओं का नारा देती है। दूसरी तरफ बेटियों के प्रति सरकार का संवेदनहीन रवैया है। कन्यादान योजना की राशि घटाने की बात कही जा रही है। कमलनाथ सरकार ने बेटियों के लिए राशि बढ़ाकर 51 हजार की थी। यदि शिवराज सरकार बेटियों के खिलाफ फैसला लेगी तो विरोध में कांग्रेस सड़कों पर उतरेगी।

यह भी पढ़ें:   हिन्दू महासभा में मनाया महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का ‘बलिदान दिवस’

गोबर खरीदेगी सरकार

प्रेम सिंह पटेल के पास पशुपालन विभाग भी है। लिहाजा उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि मध्यप्रदेश सरकार गौधन योजना लागू करने पर भी विचार कर रही है। ये योजना लागू हुई तो मध्यप्रदेश सरकार छत्तीसगढ़ की तर्ज पर गोबर खरीदेगी। मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा कि इस संबंध में छत्तीसगढ़ सरकार की योजना का अध्ययन किया जाएगा। अगर योजना अच्छी तरह चली तो इसे प्रदेश में भी लागू करने पर विचार किया जाएगा।

गौशाला बनाएगी सरकार

बता दें कि छत्तीसगढ़ सरकार 2 रुपए किलो गोबर खरीद रही है। प्रदेश के सभी 166 नगरीय निकायों में 377 शहरी गोधन खरीदी केंद्रों का चिन्हाकित कर पशुपालको से 2 रुपये प्रति किलो की दर पर गोबर की खरीदी प्रारंभ की गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने भी इस योजना की तारीफ की थी। वहीं मंत्री प्रेम सिंह ने कमलनाथ सरकार की गौशाला योजना पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 1 हजार गौशालाएं बनाने की घोषणा की गई थी, लेकिन कमलनाथ सरकार ने एक भी गौशाला नहीं बनाई। अब शिवराज सरकार गौशाला बनाएगी।

यह भी पढ़ेंः शिवराज के मंत्री को ग्रामीणों ने घेरा, जमकर हुई नारेबाजी, देखें वीडियो

Don`t copy text!