Bhopal Cheating News: भारत—पे का प्रतिनिधि बनकर दुकान पहुंचा, खाता कर गया खाली

Share

Bhopal Cheating News: थाना पुलिस ने कार्रवाई की बजाय पीड़ित कारोबारी को सायबर क्राइम की चौखट का पता बता दिया

Bhopal Cheating News
कोलार थाना, जिला भोपाल—फाइल फोटो

भोपाल। थानों में मामलों को किस तरह से टाला जाता है यह उसकी बानगी भर है। ऐसे कई मामले हर रोज थानों में होते भी होंगे। लेकिन, पारदर्शिता के नाम पर सिर्फ थाना प्रभारी की रिपोर्ट को अंतिम सच माना जाता है। ताजा मामला भोपाल (Bhopal Cheating News) सिटी के कोलार थाना क्षेत्र का है। यहां एक मेडिकल कारोबारी के साथ जालसाजी हुई। जालसाज दुकान पर पहुंचा था और उनके सामने ही खाता खाली कर गया। यह मामला सीधे जालसाजी का था जिसको सायबर का बनाकर पुलिस ने पीड़ित को सायबर क्राइम के चौखट का पता बताकर उसे वहां भेज दिया गया। हालांकि मामले की जांच के बाद रिपोर्ट कोलार थाने में ही आएगी। बस फर्क इतना है कि उस वक्त ड्यूटी अधिकारी दूसरा होगा।

टारगेट पूरा करने का दिया झांसा

जालसाजी के शिकार ललित गौड पिता महेतरू सिंह सिदार ने बताया कि वे गेहूंखेड़ा स्थित गरीब नगर में रहते हैं। उनकी ललित मेडिकल (Lalit Medical Store) नाम से दवा दुकान है। वे दुकान पर बैठे थे। तभी 17 जून की रात लगभग साढ़े नौ बजे एक मोबाइल नंबर से कॉल आया। फोन करने वाले व्यक्ति ने बताया कि वह भारत—पे एप से बोल रहा है। ललित गौड (Lalit Gaud) को जानकारी देते हुए उसने कहा कि उसके एड की समय सीमा समाप्त हो रही है। इसलिए उसको अपग्रेडेशन करना होगा। इतनी रात अपग्रेड की वजह पूछी गई तो जालसाज ने कहा कि उसको टारगेट पूरा करना होता है। इसलिए वह देर रात कॉल लगा रहा है। ललित गौड ने उसको दुकान पर आने के लिए बोला। कुछ देर बाद जालसाज दुकान में आ गया। वह मोबाइल कई तरह के संदेश लोड—अपलोड करने लगा। इस दौरान वह मैसेज वह डिलीट भी कर रहा था।

यह भी पढ़ें:   Mandsaur News : मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में लगे मेले में अश्लील डांस

मजदूर से फोन मांगकर कॉल किया

Bhopal Cheating News
जालसाजी का शिकार ललित गौड अपना आवेदन दिखाते हुए

ललित गौड ने बताया कि जब उससे मैसेज डिलीट करने की वजह पूछी गई तो वह कहने लगा कि वह कंपनी का डेटा है। उसको सार्वजनिक नहीं कर सकता। इसके बाद जालसाज वहां से चला गया। उसके जाने के बाद मेडिकल स्टोर संचालक को शक हुआ। उन्होंने दुकान में नियमित आने वाले भारत—पे के प्रतिनिधि को कॉल किया। उसको स्क्रीन शॉट भेजे तो पता चला कि उसके क्रेडिट कार्ड से जालसाज ने 90,200 रुपए निकाल लिए। ललित गौड ने उस नंबर पर कॉल किया जिससे फोन आया था। फोन एक मजदूर ने उठाया। उसने कहा कि उसका मोबाइल लेकर एक व्यक्ति ने बातचीत जरुर की थी। लेकिन, वह उसको जानता नहीं हैं। ललित गौड कोलार थाने पहुंचे तो उन्हें सायबर क्राइम में जाने की सलाह दी गई। इसके बाद उन्होंने 18 जून को सायबर क्राइम एसीपी से लिखित में शिकायत की।

यूक्रेन में महिला हिंसा की वह दास्तां जो दुश्मनी की वजह से रूसी सैनिकों के निशाने पर आईं

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cheating News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!