Bhopal Murder Case: बड़े की बजाय छोटे की सूचना से खुला कत्ल का राज

Share

Bhopal Murder Case: लंबी पूछताछ के बाद पुलिस ने पिता की हत्या के आरोप में बेटे को किया गिरफ्तार

Bhopal Murder Case
छोला मंदिर इलाके में पिता की हत्या करने वाला आरोपी प्रशांत कुशवाहा

भोपाल। कलयुगी बेटे ने अपने वयोवृद्ध पिता की निर्मम तरीके से हत्या (Bhopal Murder Case) कर दी। यह राज बेटे के सीने में दफन था। लेकिन, यह ज्यादा दिन दफन नहीं रह सका। मामला मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) का है। ज​ब राज खुला तो पुलिस ने सारे बिंदुओं पर नजरें दौड़ाई। जिसमें शक की सुई एक बार पर जाकर टिक गई। आखिर मौत की जानकारी बड़े बेटे ने पुलिस को पहले क्यों नहीं दी। यहां से जब पहले सुलझना शुरु हुई तो वह एक सुनियोजित कत्ल (Bhopal Son Killing Father Case) पर जाकर खुली। पुलिस ने हत्या के आरोप में बड़े बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।

सामान्य मान ली थी मौत

देशभर में कोरोना वायरस का आतंक फैला हुआ है। इस वायरस की चपेट में आने का खतरा सर्वाधिक बुजुर्ग को है। यह धारणा लेकर पुलिस के अधिकारी एक मौत की सूचना पर चले गए। घटना छोला मंदिर थाना (Chhola Murder Case) क्षेत्र के भानपुर इलाके की थी। यहां पुलिस को शिवशंकर कुशवाहा (Shivshankar Kushwaha) पिता मोतीलाल कुशवाहा उम्र 70 साल की लाश मिली थी। यह लाश घर की छत पर पड़ी थी। पुलिस को लगा कि मौत ज्यादा उम्र होने की वजह से स्वाभाविक हैं। इसके अलावा पुलिस को कोरोना की वजह से मौत होने का भी डर सता रहा था। लेकिन, इस भय को वह उजागर नहीं कर सकती थी। इसलिए आनन—फानन में शव पीएम के लिए भेज दिया गया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: तीन व्यक्तियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

यह भी पढ़ें: पूरे कोरोना काल में भोपाल का चिरायु अस्पताल हर जुबां में चर्चा में रहा, छत में पॉजिटिव मरीजों देखकर कुछ समझ नहीं आया

ऐसे बदला मामला

घटना में उस वक्त नाटकीय मोड़ आया जब मेडिकोलीगल के डॉक्टरों ने बताया कि शिव शंकर कुशवाहा की मौत (Shiv Shankar Murder Case) सामान्य नहीं है। बल्कि उसकी गला घोंटकर निर्मम तरीके से हत्या (Bhopal Murder Case) की गई है। यह पता चलने के बाद पुलिस ने सारे तीर अपनी कमान से निकाले और वह चलाना शुरु कर दिए। सबसे पहले शक छोटे बेटे निशांत कुशवाहा (Nishant Kushwaha) पर गया। छोटा बेटा दूसरी जगह रहता था। उसने ही घटना की सूचना पुलिस को दी थी। निशांत की दी गई जानकारियों की तस्दीक की गई। उसके मोबाइल कॉल डिटेल के साथ टॉवर लोकेशन खंगाली गई।

इसलिए पिता को मारा

निशांत ने जब बताया कि उसको पिता की मौत की जानकारी तो प्रशांत कुशवाहा (Prashant Kushwaha) ने दी थी। प्रशांत कुशवाहा पिता के साथ ही रहता है। उसने ही मुझसे कहा था कि मौत की खबर वह पुलिस को देकर आए। पुलिस ने संदेह के आधार पर फिर प्रशांत कुशवाहा को हिरासत में लिया। वह पहले तो पुलिस को कई तरीके से घुमाता रहा। जब सख्ती बरती तो वह टूट गया। उसने बताया कि पिता की हत्या (Bhopal Bete Ne Pitah Ki Hatya Ki) उसने ही की है। घटना वाले दिन संपत्ति बंटवारे को लेकर उसके पिता से विवाद हुआ था। जुर्म कबूलने (Bhopal Murder Case) के बाद पुलिस ने प्रशांत कुशवाहा को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें:   Lockdown: राजधानी में धड़ल्ले से बिक रही थी शराब, नेता—पुलिस की मदद से हो रही थी तस्करी

यह भी पढ़ें: बड़ी दमदारी से मध्य प्रदेश के जनप्रिय मुख्यमंत्री के खिलाफ बयान दिए, शाम को पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!