Bhopal Dowry Case: आधी रात बच्चा रोया तो पति ने पीटा

Share

लव मैरिज के बाद दहेज के लिए प्रताड़ित करने वाले पति के खिलाफ प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज

Dowry Case
सांकेतिक तस्वीर

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) आधी रात को बच्चा रोया तो उसके पिता ने मां के साथ बेरहमी से पिटाई लगा दी। मामला मध्य प्रदेश  (Madhya Pradesh Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के छोला मंदिर थाना क्षेत्र का है। इधर, शाहजहांनाबाद इलाके में भी पत्नी ने पति के खिलाफ मुकदमा (Bhopal Dowry Case) दर्ज कराया है। आरोपी पति ने दूसरी युवती से सगाई कर ली थी। जिसकी पोल खुलने पर पहली पत्नी के साथ मारपीट की गई।

छोला मंदिर थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि शिव नगर इलाके में रहने वाली युवती ने पति सचिन यादव (Sachin Yadav) और सास शगुन यादव (Shagun Yadav) के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज कराया है। सचिन ने 2014 में लव मैरिज की थी। उसका ससुराल और मायक आस—पास ही हैं। युवती एक निजी स्कूल की शिक्षिका हैं। लव मैरिज के बाद सचिन उसके साथ दहेज न लाने पर उसके साथ मारपीट करता था। एक महीने पहले युवती ने अपनी मां से 70 हजार रुपए लेकर उसको दिए थे। घर में अनबन चल रही थी। सचिन यादव बात—बात पर आवेश में आ जाता था। घटना वाली रात युवती का तीन साल का बेटा रोने लगा था। इस बात पर सचिन यादव गुस्से में आ गया। उसने हाथ—पैर और मुक्कों से युवती को पीटने लगा। जख्मी युवती ने थाने पहुंचकर पुलिस से मदद मांगी। जिसके बाद पुलिस ने पति और सास के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें:   Political Crime : 'भगवाधारी बलात्कारी' मामले में दिग्विजय सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज

इधर, शाहजहांनाबाद पुलिस ने संजय नगर निवासी आजम, उसकी मां कनीजा और राशिद के खिलाफ मारपीट और दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज कराया है। आजम ने शिकायत करने वाली युवती के साथ 2018 में शादी की थी। दोनों के बीच चार महीने तक ही मधुर रिश्ते रहे। इसके बाद दोनों के बीच अनबन होने लगी। इसी अनबन के बीच युवती को पता चला कि आजम ने दूसरी युवती से सगाई कर ली है। वह उससे शादी करने जा रहा है। प्रताड़ित युवती मायके में रह रही थी। जब उसको यह पता चला तो थाने पहुंच गई। उसने पुलिस को बताया कि आरोपी पति बिना तलाक दिए ऐसा करने जा रहा है। जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!