Bhopal Cyber Fraud: नौ महीने से इस थाने से उस थाने चक्कर काट रही केस डायरी 

Share

Bhopal Cyber Fraud: क्रेडिट कार्ड बंद कराने के नाम पर की गई थी 26 हजार रुपए की जालसाजी

Bhopal Cyber Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। थानों की सरहदों के बीच एक मामला असली जांच के लिए तरस रहा है। घटना भोपाल (Bhopal Cyber Fraud) सिटी की है। इसकी शुरुआती जांच पहले सायबर क्राइम ब्रांच ने की थी। जिसके बाद केस डायरी एफआईआर और आगे की जांच के लिए स्टेशन बजरिया भेजी गई। लेकिन, वहां जांच अधिकारी ने केस डायरी यह बोलकर लौटा दी कि यह उनके क्षेत्र में नहीं आता है। जिसके बाद डायरी भोपाल के ही गोविंदपुरा थाने में भेजी गई। यहां पुलिस ने मामला तो दर्ज कर लिया। लेकिन, जांच शुरु की गई तो नया थाना क्षेत्र निकलकर सामने आया गया। अब पूरी एफआईआर के साथ डायरी टीटी नगर थाने को भेजी गई है।

यह बोलकर लौटाते रहे केस डायरी

टीटी नगर थाना पुलिस के अनुसार 27 जुलाई की रात लगभग नौ बजे 491/22 धारा 420 जालसाजी का प्रकरण दर्ज किया गया है। पुलिस के पास यह केस डायरी गोविंदपुरा थाने से आई है। वहां 884/21 का प्रकरण सायबर क्राइम से मिली केस डायरी पर दर्ज किया गया था। इससे पहले इसी मामले की जांच सायबर क्राइम ने स्टेशन बजरिया को दी थी। जिसके बाद एसआई कमेलश रैकवार (SI Kamlesh Raikwar) ने मामला गोविंदपुरा का बताकर भेज दिया था। यही केस डायरी अब जांच के लिए टीटी नगर थाने पहुंची है। इसकी शिकायत चेतक ब्रिज के नजदीक गौतम नगर निवासी अमोद नंद (Amod Nand) ने दर्ज कराई थी। उसने सायबर क्राइम को 9 नवंबर, 2021 को आवेदन दिया था। अमोद नंद के पास एसबीआई का क्रेडिट कार्ड था। जिसको बंद कराने के लिए उसने गुगल में जाकर हेल्प लाइन नंबर पर कॉल किया था। कुछ देर बाद राहुल नाम के व्यक्ति ने उससे बातचीत की थी। इसी बातचीत के दौरान उसके क्रेडिट कार्ड से 26 हजार रुपए निकल गए थे।

यह पहला मौका नहीं

राजधानी भोपाल में सीमा विवाद को लेकर जनता के परेशान होने का यह पहला मामला नहीं हैं। दरअसल, सायबर क्राइम में हर शिकायत दर्ज की जाती है। जिसके बाद केस डायरी दूसरे थाने भेजी जाती है। इसके अलावा क्राइम  ब्रांच में भी मुकदमे दर्ज किए जाते हैं। जिनकी जानकारी क्राइम ब्रांच साझा भी नहीं करती है। इसी निगरानी की कमी का सायबर क्राइम और क्राइम ब्रांच में जमकर फायदा उठाया जाता है। सीमा विवाद को लेकर केस डायरी यहां वहां जाने का भी यह पहला वाक्या नहीं है। कुछ दिन पहले ही टीटी नगर थाना पुलिस ने करीब 14 करोड़ रुपए के घोटले में एफआईआर दर्ज की थी। इसकी भी केस डायरी इधर—उधर जांच के नाम पर भेजे जाने के चलते गुम हो गई थी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cyber Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: वीडियो बनाकर थाने पहुंचे, सुनवाई नहीं हुई तो सिर फोड़ दिया
Don`t copy text!