Bhopal Fake Cop: किराए से ली इनोवा में लिख रखा था एसडीएम और मध्यप्रदेश शासन

Share

Bhopal Fake Cop: पता नहीं किस शहर में जाकर किस—किसको पार्षद और महापौर बना देता यह व्यक्ति, पुलिस ने बचा लिया चुनाव में धांधली होने से

Bhopal News
सांकेतिक चित्र

भोपाल। वर्दी पहनने के तरीके से शक कुछ देर बाद यकीन में तब्दील हो गया। दरअसल, रौब दिखाने के लिए आरोपी ने पुलिस वर्दी पहन ली थी। यहां तक तो ठीक था लेकिन किराए के वाहन में पीछे एसडीएम भी लिख लिया। इन सबसे अलग वाहन में बकायदा मध्यप्रदेश शासन भी लिखवा लिया। यह सारी बातें असली पुलिस को चुभी तो उसको हिरासत में ले लिया गया। घटना भोपाल (Bhopal Fake Cop) सिटी के मिसरोद इलाके की है। आरोपी मूलत: हरदा का रहने वाला है। उसके पुराने रिकॉर्ड का पता लगाया जा रहा है।

शादी में मेहमान बनकर आया था

मिसरोद थाना पुलिस के अनुसार 21—22 जून की दरमियानी रात लगभग दो बजे 333/22 धारा 171/419 (निर्वाचनों में असर डालने और बहरुपिया बनने पर सजा) का प्रकरण दर्ज किया गया है। इस मामले का आरोपी सोहित कुमार मोरछले पिता अशोक कुमार मोरछले उम्र 22 साल है। वह हरदा का रहने वाला है। फिलहाल इंदौर (Indore) में रहता है। आरोपी ने पुलिस कांस्टेबल की वर्दी पहन रखी थी। इनोवा कार भी उसके पास थी। जिसमें पीछे उसने एसडीएम लिखा था। जबकि आगे मध्यप्रदेश शासन लिखा था। जांच में पता चला कि यह वाहन इंदौर में रहने वाले मनीष सिंह (Manish Singh) का है जो एक सप्ताह पहले खरीदा गया है। प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव है। इसलिए जगह—जगह चैकिंग की जा रही है। यह बात आरोपी सोहित कुमार मोरछले (Sohit Kumar Morchhle) को पता थी। जिससे बचने के लिए उसने पुलिस की वर्दी पहन ली। इतना ही नहीं पुलिस चैकिंग से बचने एसडीएम लिखवा लिया। ताकि निर्वाचन अधिकारी समझकर कोई पूछताछ नहीं करेगा सोचकर लिख लिया। आरोपी को मिसरोद इलाके में रिश्तेदार की शादी में शामिल होने आना था। वह वृंदावन मैरिज गार्डन आया था। यहां पार्किग में उसका वाहन खड़ा था। तभी आरोपी की हरकतों को देखकर पुलिस को शक गया। पुलिस ने इनोवा वाहन जब्त कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के पिता हरदा में किसान है।

यह भी पढ़ें:   चंद घंटों में निकली चीन विरोध की हवा, सरकारी आदेश पलटा

यूक्रेन में महिला हिंसा की वह दास्तां जो दुश्मनी की वजह से रूसी सैनिकों के निशाने पर आईं

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!