MP Lokayukta Trap : बीआरसी का बाबू रिश्वत लेते दबोचा

Share

MP Lokayukta Trap : एरियर निकालने के बदले में सहायक शिक्षक से मांग रहा रिश्वत

MP Lokayukta Trap
बैतूल बीआरसी का बाबू विनोद राठौर जो रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोचा गया

भोपाल। सहायक शिक्षक से उसके सरकारी मदों के भुगतान करने के बदले में विकास खंड शिक्षा अधिकारी का बाबू रिश्वत (MP Bribe Case) मांग रहा था। सहायक शिक्षक एरियर निकालना चाह रही थी। इस एरियर के बदले में वह 40 फीसदी रिश्वत (Betul Bribe Case) की रकम मांग रहा था। घटना मध्य प्रदेश (MP Crime News) के बैतूल (Betul Crime News) जिले की है। यह सूचना मिलने के बाद मध्य प्रदेश लोकायुक्त पुलिस (MP Lokayukta Trap) की भोपाल इकाई ने आरोपी को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोच लिया।

यह भी पढ़ें: होटल के कमरे में नंगी तस्वीरें खींचकर दो साल तक ऐसे किया ब्लैकमेल
हो रही थी रिकॉर्डिंग

इस मामले की शिकायत बैतूल जिले के गुल्लरढाना इलाके में प्रााथमिक शाला में किरण लाल इब्ने (Kiran Lal Ibane) सहायक​ शिक्षक हैं। उन्होंने अपना एरियर निकालने के लिए आवेदन दिया था। यह आवेदन भीमपुर स्थित विकासखंड शिक्षा अधिकारी (Betul BRC) के पास पहुंचा था। यहां ​बीआरसी का बाबू विनोद राठौर (Vinod Rathore) के पास फाइल थी। फाइल मंजूरी कराने के लिए वह 40 फीसदी घूस की रकम मांग रहा था। जिसकी शिकायत किरण लाल इब्ने (Teacher Rishwat Mamla) ने 24 जून को लोकायुक्त कार्यालय में की गई थी। इसी शिकायत के बाद विनोद राठौर (Vinod Rathore Bribe Case) की रिकॉर्डिंग की जा रही थी।

यह भी पढ़ें : सट्टा खेलने वाले कार्यकर्ताओं के लिए प्रदेश के यह नेता रात दो बजे भी पुलिस को लगा देते हैं फोन
ऐसे धराया बाबू

लोकायुक्त पुलिस (Bhopal Lokayukta Police) ने बताया कि आरोपी ने 45 हजार रुपए रिश्वत (Betul Bribe Case) में मांगे थे। इसके लिए 15—15 हजार रुपए मांगे थे। रिश्वत की पहली किस्त लेते हुए विनोद राठौर (Vinod Rathore Rishwat Ka Mamla) को लोकायुक्त पुलिस ने 2 जुलाई की दोपहर में दबोच लिया। आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (Betul Anti Corruption Act) के तहत कार्रवाई की गई है। लोकायुक्त पुलिस संपूर्ण मामले की जांच रिपोर्ट शिक्षा विभाग को भी सौंपेगा। लोकायुक्त पुलिस ने बीआरसी के बाबू (BRC Ka Babu Rishwat Lete Pakdaya) की संपूर्ण फाइल की जानकारी मांगी हैं। ताकि यह पता चल सके कि कही दूसरे मामलों में तो फर्जीवाड़ा नहीं किया गया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: किसान ने आत्मदाह किया

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!