Bhopal Crime News: नाबालिग पर अत्याचार के जुर्म की अधूरी एफआईआर  

Share

Bhopal Crime News: पीड़ित परिवार का दावा बेटी पर आरोपी परिवार के एक लड़के की है बुरी नजर, पुलिस ने धारा भी कमजोर लगाई

Bhopal Crime News
सांकेतिक चित्र

भोपाल। नाबालिग पर अत्याचार के जुर्म की एक सनसनीखेज कहानी (Bhopal Crime News Minor Girl) सामने आई है। यह कहानी पुलिस की एफआईआर से अलग है। घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News In Hindi) की है। पुलिस की एफआईआर में साधारण धारा लगाई गई है। जबकि यह सारी घटना एक नाबालिग की छेड़छाड़ और उसकी यातना (Bhopal Minor Girl Molestation Case) से जुड़ी है। मामले में पांच आरोपी है। इन आरोपियों से नाबालिग को लेकर ही पुरानी रंजिश चली आ रही है। इस नाबालिग पर आरोपी परिवार का एक लड़का बुरी नजर (Bhopal Minor Child Molestation Case) रखता था। उस लड़के की शादी आरोपी परिवार ने कर दी थी। लेकिन, आरोपियों को लगता था कि नाबालिग की वजह से उसकी बहू छोड़ जाएगी।

यह है पुरानी रंजिश

बैरागढ़ थाना पुलिस ने बताया कि रिपोर्ट महिला ने दर्ज कराई है। यह रिपोर्ट 17 जुलाई की शाम लगभग 4 बजे दर्ज की गई है। उसकी 15 साल की बेटी है जो क़क्षा आठवीं में पढ़ रही हैै। मोहल्ले में ही रहने वाला आरोपी विक्की उसको परेशान करता था। विक्की की उम्र लगभग 23 साल है। विक्की (Vikky) और नाबालिग के बीच बातचीत हुआ करती थी। नाबालिग के साथ उसने कुछ महीने पहले अभद्रता की थी। यह अभद्रता किसी अन्य लड़के से बातचीत करने को लेकर की गई थी। हालांकि परिवार ने बाद में इस मामले में समझौता कर लिया था।

यह भी पढ़ें:   Usury Against Campaign:  पुलिस ने दी सलाह सूदखोरों से पैसा लेने के पहले एग्रीमेंट करें

बेटे को सुधारने कराई शादी

विक्की की दो महीने पहले सोनिया नाम की युवती से शादी हो गई। शादी के बाद भी विक्की दोबारा नाबालिग से संपंर्क की कोशिश करने लगा। यह बात विक्की के माता—पिता को पता चल गई। परिवार को लगता था कि नाबालिग की वजह से विक्की सोनिया का जीवन बर्बाद न कर दे। इसी बात को लेकर शुक्रवार दोपहर 3 बजे घर पर पहुंच गए। वहां विक्की की मां मुन्नी बाई, बहन मंजु, भाई कुनाल, दोनों बहू सोनिया और प्रियांशी घर में घुस आए थे।

जंगल में ले जाकर मारने की धमकी

मुन्नी बाई ने अंजली को पलंग से बाल पकड़कर नीचे पटक दिया। सभी गाली—गलौज करने लगे। नाबालिग को बचाने उसकी मां ने दौड़ लगाई। आरोपियों ने मां को कमरे में बंद करके नाबालिग को रस्सी से बांध दिया। मुन्नी बाई का बोलना था कि वह उसे बांधकर जंगल ले चलते है। वहां उसको मार देंगे। विक्की की बहन ने फिनायल की शीशी उठाकर नाबालिग के मुंह में उड़ेल दी। नाबालिग की हालत नाजुक है और वह जयदीप अस्पताल में बेहोश है। डॉक्टर का कहना है कि वह बोलने की स्थिति में नहीं है।

पुलिस की यह है अधूरी कहानी

पुलिस ने इस पूरे मामले को बेहद सामान्य बना दिया। पूरी घटना के केंद्र बिंदु में रही नाबालिग को एफआईआर का बस हिस्सा बना दिया। पुलिस ने पूरी कहानी उसकी मां पर केंद्रीत कर दी। इस कारण पॉक्सो एक्ट समेत अन्य धारा में आरोपियों को रियायत मिल गई। फिनायल पिलाने की बजाय पीने का खुलासा पुलिस ने किया है। पुलिस ने मां की शिकायत पर धारा 452/294/323/506/34 घर में घुसकर मारपीट, गाली—गलौज, धमकी और एक से अधिक आरोपी होने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cyber Fraud: आर्मी वाला बनकर युवती से फर्जीवाड़ा

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!