Bhopal Rape Case: वल्लभ भवन महिला कर्मचारी से ज्यादती

Share

Bhopal Rape Case: पुलिस को आरोपी ऑटो चालक की तलाश

Bhopal Rape Case
सांकेतिक ​तस्वीर

भोपाल। वल्लभ भवन की महिला कर्मचारी के साथ बलात्कार (Bhopal Rape Case) का मामला सामने आया है। आरोपी ऑटो चालक है। पिछले दो सालों से वह उसे ऑफिस लाने—छोड़ने का काम करता था। घटना मध्य प्रदेश (MP CRime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) की है। आरोपी लम्बे अरसे से उसे धमकाकर गलत काम कर रहा था। पुलिस ने महिला की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ बलात्कार और अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

इसलिए जाती थी महिला

अशोका गार्डन थाना पुलिस ने बताया कि 37 साल की महिला बजरिया थाना क्षेत्र की रहने वाली है। पति प्रईवेट जॉब करता है। महिला वल्लभ भवन (Vallabh Bhavan Employee Rape Case) में कर्मचारी है। आरोपी रमेश कुशवाह (Ramesh Kushwaha) जिसको वह पहचानती है। वह कई सालों से उसे जानती है। रमेश ऑटो चलाने का काम करता है। एक ही समय पर दोनों को ऑफिस आने—जाने में दिक्कत होती थी। इसी कारण उसने रमेश को दो साल पहले ऑफिस लाने और ले जाने के लिए लगवा लिया था।

किराए का लिया मकान

महिला ने बताया 2019 में रमेश उसे शाम को छुट्टी होने पर लेने आया था। रास्ते में रमेश बोला उसने एक किराए का मकान आशियाना कॉलोनी (Aasiyana Colony Rape Case) बैरसिया रोड़ पर लिया है। वह मकान दिखाने के बहाने उसको ले गया। मकान दिखाने के कुछ देर बाद जब महिला ने उसे वापस चलने के लिए बोला तो रमेेश ने दरवाजा बंद कर दिया। यहां उसने महिला के साथ पहली बार बलात्कार (Ashoka Garden Rape Case) किया। ज्यादती के बाद महिला को उसने धमकी देते हुए बोला की अगर उसने यह बात किसी को बताई तो वह उसे जान से मार देगा। यहां तक की उसको उसके मोहल्ले में बदनाम भी कर देगा।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation: महिला ने जो बताया या फिर पुलिस की एफआईआर

बदनामी का डर

आरोपी रमेश उसे मौका मिलने पर उसी कमरे पर अक्सर ले जाता था। वह पिछले दो सालों से उसके साथ संबंध (Bhopal Government Employee Rape Case) बना रहा था। महिला के साथ बार—बार ज्यादती के कारण वह घर में डरी सहमी रहने लगी थी। पति के बार—बार पूछने पर भी वह उसे कुछ नहीं बता पाती थी। अचानक एक दिन महिला की तबीयत खराब होने लगी। जब वह इलाज के लिए पंचशील अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां टेस्ट करने के बाद डॉक्टरों ने उसे टायफाईड बताया था। महिला के घर पहुंचे पर महिला ने हिम्मत कर पति को सारी आप—बीती बता दी।

जीरो पर दर्ज हुआ मामला

महिला को थाने की जानकारी नहीं थी। इसलिए वह बजरिया थाने में पहुंची। जिसके बाद 21 जुलाई रात आठ बजे थाना बजरिया पहुंचकर मुकदमा दर्ज किया। बजरिया थाना पुलिस ने जीरो पर कायमी कर केस डायरी थाना अशोका गार्डन थाना भेज दिया है। पुलिस ने सोमवार शाम 5:30 बजे धारा 376/3762एन/506 (कई बार बलात्कार, धमकी) का मुकदमा दर्ज कर लिया है। जांच अधिकारी एसआई उर्मिला यादव (SI Urmila Yadav) ने बताया महिला से बातचीत नहीं हो सकी है। महिला अस्पताल में भर्ती है। जहां उसका इलाज चल रहा है। महिला ने जो घटना स्थल बताया उस जगह मकान मालिक से संपर्क नहीं हो सका है। महिला के विस्तृत बयान के बाद स्थिति साफ होगी।

यह भी पढ़ें: जालसाज कोचिंग का संचालक जिसके निशाने पर था शहर के एक निजी अस्पताल का संचालक

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!