Bhopal Rape Case: नशे के लिए बहन को देह व्यापार में धकेला

Share

Bhopal Rape Case: हिंदू संगठन के नेता समेत छह आरोेपियों ने बारी—बारी लूटी थी 15 साल की लड़की की अस्मत

Bhopal Rape Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। यकीन नहीं होता लेकिन रिश्तों को तार—तार करने वाली यह कहानी (Bhopal Rape Case) सही है। मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Minor Girl Rape Case) से सामने आया है। मुख्य किरदार एक युवती है जो नशे की लत में आ गई थी। उसकी जरुरतें पूरी नहीं हो पा रही थी। इसलिए उसने अपनी छोटी बहन को इस्तेमाल करने की योजना बनाई। उसने झांसा देकर उसको देह व्यापार (Bhopal Human Trafficking) में धकेल दिया। नाबालिग के साथ डेढ़ साल से बलात्कार हो रहा है। अब तक बलात्कार (Bhopal Relative Abetment Of Offence) करने वालों में छह लोगों के चेहरे बेनकाब हो चुके हैं। कुछ व्यक्तियों को हिरासत में भी ले लिया गया है।

ब्यॉय फ्रेंड ने भी किया इस्तेमाल

इस मामले में गांधी नगर (Gandhi Nagar Minor Rape Case) थाना पुलिस ने शनिवार को एफआईआर दर्ज की है। पीड़िता के पिता एलईडी और छोटे बल्ब के कारोबारी भी है। यह एफआईआर 15 साल की लड़की ने दर्ज कराई है। उसने बताया कि बड़ी बहन को गांजा पीने की लत लग गई थी। इस लत के लिए उसको पैसों की जरुरत होती थी। बड़ी बहन ने उसका रास्ता निकाला। उसने पहले छोटी बहन को अपनी लत में शामिल किया। फिर जब दोनों को नशे की तलब लगती थी तब उसको बड़ी बहन ने देह व्यापार में जाने के लिए मजबूर किया। उसने लड़कों को दोस्त बनाने के लिए कहा। झांसा देकर उनसे पैसे ऐंठने के तरीके भी बताए।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Theft Case: शहर में चोरियां नहीं थाम पा रही पुलिस

लॉज मालिक और उसके बेटों ने भी नहीं छोड़ा

Bhopal Rape Case
सांंकेतिक चित्र

पीड़िता कक्षा दसवीं की छात्रा है। जबकि उसकी बड़ी बहन कक्षा बारहवीं में पढ़ती है। उसने पुलिस को बताया कि उसका ब्यॉय फ्रेंड समीर उर्फ सुनील धानुक ([email protected] Dhanuk) है जो उसको परवलिया सड़क में स्थित लॉज में ले जाता था। वहां पर उसने ज्यादती की थी। ऐसा करते हुए लॉज के मालिक गुलाब सिंह मंडलोई (Gulab Singh Mandloi) ने देख लिया। उसने भी नाबालिग के साथ ज्यादती की। इतना ही नहीं उसके बेटों अंकित मंडलोई (Ankit Mandloi) और शुभम मंडलोई (Shubham Mandloi) ने भी नाबालिेग की अस्मत लूटी। नाबालिग गांजे के लिए अस्मत लूटाने के लिए तैयार रहती है। यह खबर धीरे—धीरे कई जगह फैलने लगी।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस वर्दीधारी एसीपी ने भोपाल के लोगों को यह बोलकर माल बटोर लिया

बजरंग दल का है नेता

पुलिस ने बताया कि समीर उर्फ सुनील धानुक बजरंग दल का नेता (Bhopal Bajrang Dal News) भी है। यह बात रिश्तेदारों में भी फैल गई थी। जिसका पता चलने पर नाबालिग के चचेरे भाई ने भी उसको नहीं बख्शा। पुलिस ने इस मामले में 7 लोगों को आरोपी बनाया है। जिसमें उसकी बड़ी बहन, समीर उर्फ सुनील धानुक, गुलाब सिंह, अंकित मंडलोई, शुभम मंडलोई, चचेरा भाई और गौरव त्यागी उर्फ गोल्डी (Gaurav [email protected]) शामिल है। आरोपियों के खिलाफ धारा 376(2)एन/366(क)/370(4)(5)/109/6 (कई बार बलात्कार, झांसा देना, दास के रुप में खरीदना, अपराध के लिए उकसाना और पॉक्सो एक्ट) का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने कुछ आरोपियों को हिरासत में लिया गया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Death Case: सैप्टिक टैंक में गिरकर मासूम की मौत

ऐसे हुआ खुलासा

Bhopal Rape Case
सांकेतिक चित्र

इस मामले का खुलासा नाबालिेग की हरकतों की वजह से हुआ। दरअसल, छोटी और बड़ी बहन की हरकतों से मोेहल्ले के लोग वाकिफ होने लगे थे। उन्होंने माता—पिता को जानकारी दी। जिसके बाद पिता ने फटकारा तो नाबालिग ने गांधी नगर थाने में फोन लगा दिया। उसने बताया कि पिता से उसका बचाया जाए नहीं तो वह आत्महत्या कर लेगी। यहां से मामला पुलिस के पास पहुंचा। पुलिस ने हालात देखने के बाद नाबालिग को काउंसलिंग के लिए टीटी नगर भेजा। जहां एक महीने तक काउंसलर ने नाबालिग से बातचीत की थी। जिसके बाद उसके साथ हुई पूरी घटना सामने आई।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!