Dehli Murder: निर्दयी मां के प्रेमी की पिटाई से बेहोश बालक की मौत

Share
बचने के लिए लाश को नाले में फेंका, वारदात में शामिल तीन आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
Dehli Murder Case
सांकेतिक फोटो

दिल्ली। भूख से बिलखने पर एक पांच साले के बच्चे को बेरहमी से पीटा गया। फिर उसके बाद उसकी गला दबाकर हत्या( Killed) कर दी गई। मामला दिल्ली (Dehli Murder Case) के शाहदरा इलाके का है। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों में मां (Mother Killed Son), उसका कथित प्रेमी और एक अन्य शामिल है। पुलिस को लाश (Body) नाले में मिली थी। जिसकी जांच के बाद हत्याकांड (Dehli Massacre) का खुलासा हुआ था।

पुलिस के मुताबिक एक पांच साल के मासूम का शव नाले में पड़ा मिला था। लाश शाहदरा के खजूरी खास स्थित नाले में बोरे के भीतर मिली थी। शव करीब चार दिन पुराना था। मामले की पड़ताल की गई। इसमें एक सीसीटीवी(CCTV Footage) कैमरे में वाहन कैद हुआ। उस वाहन में एक महिला और दो युवक सवार दिख रहे थे। लाश को नाले में फेंकते हुए पुलिस ने देखा। जिसके बाद पुलिस ने उस गाडी नम्बर से आरोपियों का पता लगाया। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपी अनीता(Anita), उसका प्रेमी धीरज (Dhiraj) और उसका साथी प्रदीप (Pradeet) को गिरफ्तार किया गया। आरोपी अनीता की उम्र 22 साल है। उसकी शादी जयवीर (Jaiveer) से हुई थी। जयवीर से उसे दो बच्चे हुए थे। जयवीर शराब पीने के बाद उसके साथ मार—पीट करता था। इस कारण उसकी दोस्ती धीरज नाम के व्यक्ति से हो गई थी। दोस्ती कब प्यार में बदल गई पता नहीं चला। आखिरकार अनीता ने जयवीर को छोड़कर वह प्रेमी के साथ रहने चली गई।
वह अपने साथ दोनों बच्चों को भी लेकर गई थी। कुछ समय पहले प्रेमी का काम छूट गया। इस कारण घर खर्च चलाने में दिक्कत आ रही थी। अनीता की फिर धीरज से भी अनबन होने लगी। वह उसके  दोनों बच्चों को लेकर ताना मारता था। वह कहता था कि उसके बाप के घर बच्चों को छोड़कर आ जाए। घटना (Minor Killing) वाली रात को भी धीरज शराब के नशे में घर में दाखिल हुआ था। जिसके बाद विवाद शुरू हुआ था। विवाद को देखकर छोटा बच्चा रोने लगा था। धीरज ने उसे शराब के नशे में ही मारा था। जिसके बाद वह बेहोश हो गया था। उसने बच्चे का गला घोंट दिया था। उसकी मौत (Dehli Murder Case) हो गई थी। प्रेमी को बचाने के चक्कर में मैंने ही धीरज के दोस्त को फोन करके घर आने के लिए बोला था। जिसके कुछ देर बाद प्रदीप घर गाड़ी लेकर आया था। उसके आने के बाद बच्चे के शव को नाले में फेंकने गए थे। अपने बचाव के लिए परिवार ने बच्चे की गुमशुदगी थाने में दर्ज कराई थी।
यह भी पढ़ें:   Rajasthan Rape: नाबालिग से बाप ने किया बलात्कार
Don`t copy text!