अवॉर्ड वापसी पर कृषि मंत्री कमल पटेल का विवादित बयान, सुनिए क्या कहा

Share

‘भारत माता को गाली देने, देश के टुकड़े करने वालों को मिले हैं अवॉर्ड’

Kamal Patel
कमल पटेल, कृषि मंत्री, मध्यप्रदेश

भोपाल। किसान आंदोलन (Farmers Protest) का समर्थन कर रहे पदक विजेताओं पर टिप्पणी करते हुए मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल (Minister Kamal Patel) ने विवादित बयान दे दिया। उन्होंने अवॉर्ड मिलने की प्रक्रिया पर ही सवाल खड़े कर दिए। वें यहीं नहीं रुके उन्होंने तो अवॉर्डियों की देशभक्ति को चैलेंज कर दिया। दरअसल दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में देश के कई प्रमुख खिलाड़ियों ने अवॉर्ड वापसी की चेतावनी दी है। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री, अकाली प्रमुख प्रकाश सिंह बादल ने पद्म विभूषण लौटा दिया है। बता दें कि अकाली दल, एनडीए का सबसे पुराना साथी था। लेकिन कृषि कानून पास किए जाने के बाद अकाली दल ने एनडीए, या यूं कहे कि भाजपा का साथ छोड़ दिया है।

कमल पटेल ने कहा

‘पहले भी अवॉर्ड वापस हुए थे। जितने अवॉर्डी हैं, इन्हें अवॉर्ड कैसे मिले है ? भारत माता को गाली दो, देश के टुकड़े करों, उनको अवॉर्ड मिलते है। ये तथाकथित बुद्धिजीवी, तथाकथित अवॉर्डी, ये देशभक्त नहीं है। मैं किसान संगठनों को चुनौती दे रहा हूं। एक ही बात पर अड़े है कि बिल वापस लो, नहीं तो कोई बात ही नहीं मानेंगे, अरे क्यों नहीं मानोगे। क्यों बिल वापस लें। देश की सबसे बड़ी संस्था संसद ने बिल पास किया है।’

सुनिए क्या कहा

YouTube video

राष्ट्रपति भवन जा रहे खिलाड़ी

Kamal Patel
अवॉर्ड वापस करने जाते खिलाड़ी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक किसानों के समर्थन में पंजाब-हरियाणा के कई राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी उतर आए है। कृषि बिल वापस लिए जाने की मांग को लेकर करीब 30 खिलाड़ी अपने अवॉर्ड लौटाना चाहते है। ये खिलाड़ी मार्च करते हुए राष्ट्रपति भवन की और बढ़ रहे थे। उन्हें पुलिस ने रोक दिया है। बता दें कि बॉक्सर विजेंद्र सिंह भी किसानों के समर्थन में सिंधु बॉर्डर पहुंचे थे। उन्होंने अपना खेल रत्न लौटाने की बात कही थी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Murder Case: एमपी का सीरियल किलर 'खजानावाला'

यह भी पढ़ेंः मुठभेड़ में मारा गया साइको किलर, 5 पुलिसकर्मी घायल

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!