पत्रकार के साथ मारपीट, कांग्रेस नेताओं पर आरोप

Share

थाने में धमकाया, बाहर निकलते ही पीटा

Kanker News
सांकेतिक चित्र

रायपुर। छत्तीसगढ़ के कांकेर (Kanker News) में एक पत्रकार के साथ मारपीट की गई। कांग्रेस नेताओं पर पत्रकार पर हमला करने का आरोप है। कांग्रेस नेताओं ने थाने में घुसकर पत्रकार को धमकाया, बाहर निकलते ही उनके साथ मारपीट की। वरिष्ठ पत्रकार ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस के स्थानीय नेताओं ने उनके साथ मारपीट की है, इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। कांकेर जिले के पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि पत्रकार कमल शुक्ला (Journalist Kamal Shukla) (53 वर्ष) ने गफ्फार मेमन, जितेन्द्र सिंह ठाकुर, शादाब खान, गणेश तिवारी और अन्य लोगों के खिलाफ मारपीट करने तथा जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है।

थाने में चल रहा था विवाद

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शुक्ला ने पुलिस में शिकायत की है कि उन्हें आज जानकारी मिली थी कि कांकेर के पत्रकार सतीश यादव के साथ नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह ठाकुर और कुछ लोगों ने मारपीट की है तथा उसे थाना लेकर गए हैं। सूचना के बाद जब शुक्ला और अन्य पत्रकार थाने पहुंचे तब कांग्रेस के विधायक शिशुपाल शोरी के प्रतिनिधि गफ्फार मेमन, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष जितेन्द्र सिह ठाकुर, पार्षद मकबूल खान, पार्षद शादाब खान, गणेश तिवारी और अन्य लोग हंगाम कर रहे थे तथा पत्रकारों को धमका रहे थे।

‘तुमने रेत कारोबार को नुकसान पहुंचाया है’

उन्होंने बताया कि शुक्ला ने आरोप लगाया है कि आरोपियों ने जब उन्हें देखा तब उन्हें वहीं थाने के भीतर मारने की कोशिश की। वहीं आरोपी गफ्फार मेमन ने पिस्तौल निकालकर धमकाया और कहा कि तुमने मुझे रेत के कारोबार में नुकसान पहुंचाया है। इस दौरान गफ्फार ने शुक्ला को जान से मारने की धमकी भी दी। शुक्ला ने कहा है कि जब वह थाने से बाहर निकले तब वहां मौजूद आरोपियों ने पिटाई शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें:   Chhattisgarh Murder: घर जमाई को घर से किया बेदखल, ससुर की हत्या कर शव को जलाया

पीड़ित पत्रकार ने पुलिस से की गई शिकायत में कहा है कि उन्होंने कांकेर जिले में भ्रष्टाचार, रेत माफिया और आदिवासियों का उत्पीड़न से संबंधित समाचारों को अपने अपने पोर्टल में प्रकाशित किया है जिससे उनकी जान को खतरा हो गया है। शुक्ला ने इसके लिए पुलिस से सुरक्षा की मांग की है।इधर पुलिस ने एक बयान जारी कर इसे दो पत्रकारों के मध्य लड़ाई कहा है।

यह भी पढ़ेंः भोपाल रेलवे स्टेशन पर अधिकारियों ने किया युवती से गैंगरेप

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!