Bhopal Cyber Fraud: दोस्त बनकर जालसाज ने चूना लगाया

Share

Bhopal Cyber Fraud: दो महीने पहले हुई वारदात में अब दर्ज किया गया मुकदमा, खाते से निकाले 94 हजार रूपए

Bhopal Cyber Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। यदि आपको कोई दोस्त बनकर मदद मांग रहा है तो सावधान हो जाइए। उससे लेन—देन या खाते से जुड़ी जानकारी साझा न करिए। इन सावधानियों को न बरतने पर एक व्यक्ति को 94 हजार रूपए का नुकसान उठाना पड़ा। यह घटना भोपाल (Bhopal Cyber Fraud) शहर के निशातपुरा थाना क्षेत्र की है। जिसकी शुरूआती जांच सायबर क्राइम ने की थी। जिसके बाद अब मामला दर्ज किया गया है।

क्लीनिक चलाता है पीड़ित

निशातपुरा थाना पुलिस के अनुसार यह वारदात 14 नवंबर, 2022 को हुई थी। जिसकी शिकायत राजू तिवारी पिता बीएम तिवारी उम्र 47 साल ने दर्ज कराई है। वे करोद स्थित अमन कॉलोनी में रहते हैं। वे निशातपुरा इलाके में ही क्लीनिक भी चलाते हैं। राजू तिवारी (Raju Tiwari) ने पुलिस को बताया कि उनके पास फोन आया था। फोन करने वाले व्यक्ति ने दोस्त बनकर उससे बातचीत की। उसने कहा कि उसको खाते में आन लाइन पैसा जमा कराना है। इसलिए खाते की जानकारी उसने राजू तिवारी से मांग ली। ऐसा करते वक्त एक ओटीपी भी आया था। यह ओटीपी उसने जालसाज को बता दिया। जिसके बाद कई किस्त में खाते से करीब 94 हजार रूपए निकल गए। इस बात की जानकारी लगी तो उसने दोस्त को फोन लगाया। जिसके बाद उसे अहसास हुआ कि वह जालसाज का शिकार बन गया है।  निशातपुरा थाना पुलिस को केस डायरी सायबर क्राइम से मिली। जिसके बाद 63/23 धारा 420 जालसाजी का मामला दर्ज कर लिया गया। प्रकरण की जांच और आगे की विवेचना एसआई एमडी अहिरवार (SI MD Ahirwar) कर रहे हैं।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cyber Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   खनन माफिया पुलिस कस्टडी से छुड़ा ले गए संदिग्ध
Don`t copy text!