नेताओं को कमलनाथ की नसीहत, जैसा बीज बोएंगे, वैसी ही फसल काटेंगे

Share

नेताओं की पत्नियों को नहीं दिए जाएंगे टिकट- कमलनाथ

MP Political News
The Display

भोपाल। ‘‘आज की राजनीति व समय परिवर्तित हो चुका है, जिसने परिवर्तन को अपना लिया वही सफल। अब वह समय गया कि जब एक व्यक्ति हजारों मतदाताओं को किसी एक के पक्ष में करने की गारंटी ले लिया करता था। आज तो वह समय है जिसमें एक व्यक्ति अपने घर के व घर के आसपास के वोटों की भी गारंटी नहीं ले सकता है। नगरीय निकाय चुनाव को छोटा चुनाव ना समझें, इसे हल्के में ना लें, इसे बेहद गंभीरता से लें। यह चुनाव विधानसभा चुनाव का आधार है, इस चुनाव से आप जनता से अपने संबंधों को और मजबूत व प्रगाढ़ बना सकते हैं’’ ये बातें पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने निवास पर आयोजित बैठक में नगर पालिका निगम के प्रभारियों- सह-प्रभारियों से कही।

‘पत्नियों को नहीं मिलेगा टिकट’

Kamalnath
कांग्रेस नेताओं को संबोधित करते अध्यक्ष कमलनाथ

कमलनाथ ने प्रभारियों-सहप्रभारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों में निष्पक्ष तरीके से योग्य उम्मीदवारों का चयन करें और योग्य उम्मीदवारों के नाम प्रदेश कांग्रेस कमेटी को तय समय सीमा में सौपें। कांग्रेस की पैठ वार्ड स्तर व पंचायत स्तर तक है, बस आवश्यकता है अपनी बात को मतदाताओं तक सही ढंग से पहुंचाने की। आप जैसा बोयेंगे वैसी फसल काटेंगे। महिलाओं के टिकट को लेकर उन्होंने कहा कि इन चुनावों में उन्हीं महिलाओं को टिकट में प्राथमिकता मिलेगी जो समाज में, राजनीति में मैदानी स्तर पर सक्रिय होगीं। घरेलू व राजनीति से दूर रहने वाली नेताओं की पत्नियों को टिकट नहीं दिए जाएंगे।

किसानों के समर्थन में प्रदर्शन

इस अवसर पर उन्होंने दिल्ली की सीमा पर पिछले 40 दिन से चल रहे किसान आंदोलन व तीन नए किसान विरोधी कानूनों के बारे में अवगत कराते हुए कहा कि 20 जनवरी को किसानों के समर्थन में व काले कानूनों के विरोध में भोपाल में बड़ा किसान सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। उन्होंने प्रभारियों से कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर नये मतदाताओं को जोड़ने एवं मतदाता सूची पुनरीक्षण के काम में भी प्राथमिकता से जुट जाएं।

यह भी पढ़ें:   पीएम मोदी की बायोपिक पर सुप्रीम कोर्ट का आदेश- चुनाव आयोग पूरी फिल्म देखे, फिर फैसला दे

बैठक के पूर्व दिल्ली की सीमा पर पिछले 40 दिनों से चल रहे किसान आंदोलन में शहीद हुए 60 किसानों व मप्र के डबरा जिले के चिनोर तहसील के शहीद किसान सुरेन्द्र सिंह सिद्दू को 2 मिनिट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई। बैठक में प्रदेश कांगे्रस के पूर्व अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया, पूर्व मंत्री सज्जनसिंह वर्मा, जीतू पटवारी, कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, सुरेन्द्र चैधरी, उपाध्यक्ष प्रकाश जैन, मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सिंह सलूजा, मांडवी चैहान, सेवादल अध्यक्ष ठाकुर रजनीश सिंह, किसान कांगे्रस के अध्यक्ष दिनेश गुर्जर आदि उपस्थित थे।

यह भी पढ़ेंः श्मशान घाट में हुआ दर्दनाक हादसा, 20 की मौत

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!