MP Unlock Order: कोरोना कर्फ्यू जारी रहेगा, रियायत के आदेश जिलेवार होंगे जारी

Share

MP Unlock Order: वैक्सीन के लिए अभियान चलाने का भी ऐलान, दो दिन पूरा प्रदेश रहेगा लॉक डाउन

MP Unlock Order
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान- File Image

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज कोरोना कर्फ्यू के नए आदेश से जुड़ी है। इस संबंध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के नागरिकों को संबोधित करते हुए इसकी घोषणा (MP Unlock Order) की है। उन्होंने करीब 20 मिनट के भाषण में केवल तीन बार टीकाकरण शब्द का इस्तेमाल करते हुए उसको शुरु करने से संबंधित विशेष अभियान चलाने की बात अभी की है। पूरे प्रदेश में शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक जनता कर्फ्यू लागू रहेगा। रोज पूरे प्रदेश में रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू भी रहेगा। प्रदेश के सभी जिलों ने अपने यहां की भौगोलिक और कोरोना स्थिति के अनुसार फैसले लिए हैं। जिन्हें मुख्यमंत्री ने हरी झंडी दे दी है।

15 जून तक जारी रहेगा कोरोना कर्फ्यू

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में कहा कि 75417 टेस्ट में से 1205 संक्रमित मरीज मिले हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमण अब 1.6 रह गया है। रिकवरी 96 फीसदी पर पहुंच गई है। इंदौर और भोपाल में भरसक प्रयास किया जा रहा है। आने वाले केस घट रहे हैं। संक्रमण (MP Unlock Order) नियंत्रित हैं लेकिन संकट अभी टला नहीं है। लोगों को सावधान रहने की आवश्यकता है। प्रदेश ब्लैक फंगस से भी लड़ रहा है। एंटी फंगल इंजेक्शन की आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है। निजी अस्पतालों को भी इंजेक्शन भेज रहे हैं। इसलिए कोरोना कर्फ्यू समाप्त नहीं किया जा रहा है। कोरोना कर्फ्यू 15 जून तक जारी रहेगा। लेकिन, इस दौरान सरकार ने रियायत देने का फैसला लिया है।

यह भी पढ़ें: हेलीकॉप्टर वाला इंजेक्शन जिसको देखने मंत्री, कमिश्नर, कलेक्टर, डीआईजी सभी गए, आज भी वह पहेली है आखिर गया कहां

इन क्षेत्रों में रहेगा प्रतिबंधित

MP Unlock Order
आंकड़ों के साथ भोपाल पुलिस की तरफ से जारी तस्वीर— साभार File Image

जिले से लेकर ब्लॉक तक में बने क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ने अपने—अपने फैसले लिए हैं। उन्होंने बताया कि कुछ गतिविधियों को पूरे प्रदेश में प्रति​बंधित किया गया है। सभी सामाजिक, राजनैतिक धार्मिक आयोजनों पर प्रतिबंध होगा। खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, मेले पूरी तरह से बंद रहेंगे। स्कूल—कॉलेज, कोचिंग, यह भी बंद रहेंगे। सिनेमाघर, मॉल, जिम, थियटर, स्वीमिंग पुल, पिकनिक स्पॉट, सभागृह सभी बंद रहेंगे। अत्यावश्यक सेवाओं के अलावा अन्य दफ्तर चलेंगे। सभी धार्मिक—पूजा स्थल में चार से अधिक संख्या नहीं होगी। अंतिम संस्कार और मृत्यु भोज में अधिकतम 10 लोगों की अनुमति होगी। शादी में दोनों पक्षों के 20 लोग ही शामिल होंगे। एक जगह एक साथ 6 लोगों से अधिक जमा नहीं हो सकेंगे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime : हंगामे की सूचना पर पहुंची पुलिस पार्टी को खदेड़ा

ऐसी रहेगी रियायत

मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में बताया कि समस्त कारखाने, कच्चा माल तैयार माल का आवागमन करने वाले, स्वास्थ्य, चिकित्सक, पशु चिकित्सा, राशन की दुकान, पशु आहार, रसोई गैस, मंडी, कृषि यंत्रों की दुकान, रेस्टोरेंट में टेक होम की सुविधा, बैंक, बीमा कार्यालय, नॉन बैंक फायनेंस कंपनी, इलेक्ट्रिशियन, प्लम्बर, आईटी सर्विस, टीकाकरण करने के लिए जाने वाले लोग, निजी सुरक्षा सेवा, घरेलू सेवा से जुड़े लोग को आने—जाने, सभी मनरेगा से संबंधित कार्य, तेंदूपत्ता संग्रहण का काम, टेलीकॉम सेंटर, फल—सब्जी परिवहन, कॉलोनी की दुकानों और परीक्षा केंद्र में आने—जाने वाले लोगों को इस दौरान छूट रहेगी। आटो में दो सवारी ही बैठ सकेगी। इन सभी पर कोई प्रति​बंध नहीं रहेगा। अन्य क्षेत्रों के बारे में जिले के कलेक्टर हालात के अनुसार फैसला देंगे।

यह भी पढ़ें: नेहरु को कोसते—कोसते सांस उखड़ आती थी, आज उन्हीं की विरासत से बच रही है नाक

व्यापारियों के लिए गाइड लाइन

MP Unlock Order
भोपाल की सड़कों पर इस तरह के संदेश को लिखकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है-File Image

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी तरह के निजी कार्यालय कुल 50 फीसदी कर्मचारी के साथ खुल सकेेंगे। पूरे प्रदेश में लगातार टेस्ट जारी रखेंगे। प्रतिदिन 75 हजार टेस्ट किए जाएंगे। लोगों से अपील है कि सैंपल देने में सहयोग करें। संक्रमित मरीज के संपर्क में आने वाले लोगों का भी सैंपल लिया जाएगा। कोविड केयर सेंटर चालू रहेंगे। किल कोरोना अभियान जारी रहेगा। गांव में अमले को मदद करने के लिए मुख्यमंत्री ने आह्वान किया। अतिआत्मविश्वास में आकर कोविड नियमों को नहीं भूलना है। फेस मास्क नियमानुसार जरुर पहने। इसको दिनचर्या का अंग बनाने के लिए उन्होंने कहा। दो गज की दूरी के साथ बिना वजह बाहर न निकले। किसी भी भीड़ भरे बाजार में न जाए। व्यापारियों के लिए भी गाइड लाइन बनाई गई है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Brutal Murder: हथौड़ा मारकर पति ने की पत्नी हत्या

स्कूल—कॉलेज पर फैसला नहीं

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि लोगों को पैदल घूमना चाहिए। योग और व्यायाम भी करें। कोरोना के सारे प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करें। लक्ष्ण दिखाई देने पर टेस्ट कराना जरुरी है। टीका जरुर लगाए। यह कोरोना से निपटने सुरक्षा चक्र है। इसके लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। उसमें सरकार का सहयोग करें। कुछ लोगों ने भ्रम फैलाया है। वह समाज के शुभचिंतक नहीं है। बच्चों की परीक्षाएं और उनकी शिक्षा के लिए मंत्री का समूह बनाया गया है। उनकी रिपोर्ट मिलने के बाद जल्द चर्चा की जाएगी। तीसरी लहर की बात होने लगी है। हमारी लापरवाही इसे जल्दी जन्म दे देगी।

जिंदगी अनलॉक करें कोरोना को लॉक करें

MP Unlock Order
राजधानी भोपाल में कोरोना से निपटने तैनात पुलिस अधिकारी संदेश के साथ फाइल फोटो

मुख्यमंत्री ने कहा है कि संक्रमण का विस्फोट से बचने के लिए योगदान देना जरुरी है। अस्पताल में सुविधाओं को लेकर कहा कि सरकार उसमें समानांतर रुप से काम कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आखिर सरकार कब तक बंद रखेगी। वायरस आगे भी बना रहेगा। यह जवाबदारी अकेले मुख्यमंत्री की नहीं है। मेरी तरफ से कोई कसर में कमी नहीं रहेगी। हम मिलकर काम करेंगे और लडेंगे। कठिनाईयों को पार करके विजय तो हमने पाई है। सावधान तो रहना होगा आगे अभी लंबी लड़ाई है। आईए भाईयों और बहनों जिंदगी अनलॉक करे कोरोना को लॉक करें।

Don`t copy text!