Human Trafficking: 7 लाख में 13 साल की बेटी को बेचा, चार महीने की गर्भवती हालत में मिली

Share

चाचा ने खोला था पिता का राज, थाने पहुंचा मामला, दो आरोपी हुए गिरफ्तार

Human Trafficking
सांकेतिक फोटो

जयपुर। भारत (India) का एकमात्र राज्य राजस्थान (Rajsthan) भ्रूण हत्या (Embryoctony), बाल विवाह (Infant Marriage) और मानव तस्करी (Human Trafficking) के चलते बदनाम है। यहां नाबालिग लड़कियों के खिलाफ मामले सर्वाधिक सामने आते हैं। ताजा मामला बाड़मेर (Badmer) जिले से सामने आया है। यहां एक कलयुगी पिता ने महज 13 साल की नाबालिग बेटी (Minor Daughter) को 7 लाख रुपए की लालच में बेच (Sale) दिया था। इसके बाद वह परिवार को बहाने बनाता रहा और झूठ बोलता रहा। जब मामला पुलिस के पास पहुंचा तो मानव तस्करी से नाबालिग से ज्यादती करने का सनसनीखेज मामले खुलासा हुआ। इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि एक व्यक्ति अभी भी फरार है।

जानकारी के अनुसार बाड़मेर जिले मे एक गुमशुदा लड़की ​के चाचा ने उसके पिता पर शक जताया था। चाचा ने पुलिस को बताया था उसकी भतीजी की उम्र 13 साल है। उसको पिता घर से अचानक एक दिन दूसरे शहर ले गया था। इसके बाद वह घर अकेला आया था। पूछा गया तो पिता ने बोला की लड़की के लिए अच्छा परिवार मिल गया था। इसलिए उसने लड़की की शादी कर दी है। यह पता चलने पर घर में सबने विरोध किया ​था। लड़की के घर वाले किसी भी बात से संतुष्ट नहीं हुए। जिसके बाद पूरा मामला थाने पहुंच गया। चाचा की रिपोर्ट पर पिता से पूछताछ हुई। जिसमें ​आरोपी पिता ने कबूला कि वह अपनी लड़की को बाड़मेर क्षेत्र में दो लोगों को 7 लाख रूपए में बेच आया है। जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उसकी लडकी को हैदराबाद में उन्होंने बेच दिया है। पुलिस ने अपनी एक टीम लड़की की बरामदगी के लिए हैदराबाद रवाना की। वहां पुलिस को मिली लेकिन उसको चार महीने का गर्भ  था। पुलिस ने लड़की को परिजनों को सौप दिया है। बाकी दो आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करके उन्हें जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें:   परीक्षा देने आई युवती की प्रेमी ने की बेरहमी से हत्या
Don`t copy text!