भाजपा नेता सुरेंद्रनाथ सिंह की बेटी का वीडियो- ‘किसी के साथ भागी नहीं, तंग आकर छोड़ा घर’

Share

सुरेंद्रनाथ सिंह ने बताया था मानसिक रूप से बीमार, बेटी बोली झूठ बोल रहे घरवाले

सुरेंद्रनाथ सिंह और मां के साथ आरती सिंह

भोपाल। हाल ही में भाजपा नेता सुरेंद्रनाथ सिंह (Surendra Nath Singh) ने कमलानगर थाने में अपनी बेटी आरती सिंह (Aarti Singh)  के गुमशुदा होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पूर्व विधायक और पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेंद्रनाथ सिंह का कहना था कि उनकी बेटी आरती मानसिक रूप (Mentally Disturb) से बीमार है। लिहाजा वो गुमशुदा हो गई है। लेकिन अब आरती का एक वीडियो (Video) सोशल मीडिया (Social Media)  पर वायरल हो रहा है। जिसमें उसने अपने घर वालों पर गंभीर आरोप लगाए है। उसका कहना है कि प्रताड़ना से मुक्ति पाने के लिए उसने घर छोडा है, जहां भी है वो खुश है।

आरती ने अपने वीडियो में कहा कि वो इससे पहले भी 10-20 बार घर छोड़ चुकी है। बीते 10 साल से उसे प्रताड़ित किया जा रहा है। उसकी मौसी का बेटा सुशील उसे परेशान करता है। वो उसके साथ मारपीट भी करता है। वीडियो के मुताबिक वो किसी के साथ नहीं भागी है। प्रताड़ना से तंग आकर उसने घर छोड़ा है।

आरती का कहना है कि वो किसी भी धर्म या जाति के लड़के के साथ नहीं भागी है। लिहाजा उसके घर छोड़ने को मुद्दा नहीं बनाया जाना चाहिए। आरती ने चैन से जीने की इच्छा जाहिर करते हुए बताया कि वो जहां भी है, खुश है। आरती के मुताबिक उसके घरवाले उसे बहुत परेशान करते है, लिहाजा वो घर लौटना नहीं चाहती। आरती ने साफ किया कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक है। उसका कहना है कि उसके घरवाले राजनीतिक ओहदे पर है लिहाजा वो झूठे आरोप लगा रहे है, वो इस संबंध में दस्तावेज भी पेश कर सकते है कि उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है, जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: सट्टे और अद्धे के साथ महिलाएं गिरफ्तार

सुनिए आरती की जुबानी उसकी कहानी

YouTube video

बता दें कि गुरुवार को सुरेंद्रनाथ सिंह ने अपनी बेटी आरती की गुमशुदगी की रिपोर्ट कमलानगर थाने में दर्ज कराई थी। उसके बाद ही चर्चाओं का बाजार गर्म है। सूत्रों का कहना है कि वो किसी अन्य समुदाय के युवक के साथ भाग गई है, इससे पहले भी वो कई बार ऐसा कर चुकी है। लेकिन इस बार वो पैसा और गहने भी अपने साथ ले गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आरती सिंह ने जबलपुर हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की है। वो एक वकील के साथ जबलपुर पहुंची है। इस मामले में पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह का कहना है कि उनकी बेटी मानसिक रूप से बीमार है। बीते 5-6 साल से उसका इलाज चल रहा है। ये उनके घर का मामला है इसलिए इसे इतना तूल नहीं दिया जाना चाहिए। वो इसे सुधार लेंगे।

Don`t copy text!