अष्टमी पूजन के लिए गया था परिवार, चोरों ने घर कर दिया साफ

Share

Bhopal Theft News: पुलिस ने एफआईआर में आखिर 21—51 करके क्या देना चाहती थी संदेश

Bhopal Theft News
Clip Art

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल ताजा समाचार निशातपुरा इलाके से सामने आया है। यहां पुलिस ने चोरी (Bhopal Theft News) का केस दर्ज किया है। लेकिन, उसमें पुलिस को 21 और 51 का बड़ा मोह दिख रहा है। दरअसल, जिसके यहां वारदात हुई वह अष्टमी पूजा के लिए गांव गया था। पुलिस ने चोरी गई नकदी 21 हजार और कुल संपत्ति 51 हजार रुपए बताई है। अब समझ यह नहीं आ रहा है कि पुलिस इस तरह के अंक लिखकर क्या संदेश देना चाह रही है।

पुलिस की कीमत है यकीन नहीं होता

निशातपुरा पुलिस के अनुसार 22 अप्रैल की दोपहर अपरान्ह चार बजे नकबजनी का मुकदमा दर्ज किया गया है। जिसमें पुलिस ने धारा 457/380 (रात में चोरी) की धारा लगाई है। घटना पूजा कॉलोनी की है। जिसकी शिकायत लखन सिंह विश्वकर्मा (Lakhan Singh Vishwkarma) पिता मांगीलाल उम्र 35 साल ने दर्ज कराई है। वह कारपेंटर का काम करता है। वह पूरे परिवार के साथ अष्टमी की पूजा के लिए बैरसिया गांव गया हुआ था। यहां उसका भाई भी साथ में रहता है। परिवार जब अगले दिन घर लौटा तो सोने—चांदी के जेवरात और नकदी 21 हजार रुपए गायब थे। पुलिस ने चोरी गई संपत्ति की कीमत 51 हजार रुपए बताई है। पुलिस का कहना है कि चोरों की पड़ताल की जा रही है। इसके लिए आस—पास लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला जा रहा है।

यह भी पढ़ें: यदि इस डेटिंग एप्प को आपने इंस्टाल कर रखा है तो समझ लीजिए मुसीबत से दोस्ती कर ली

यह भी पढ़ें:   Bhopal Fake Robbery Case: एक लड़की के दो चाहने वाले उसे छोड़ फंस गए उसके दीवाने

ड्रायवर नकदी लेकर भागा

Bhopal Theft News
सांकेतिक चित्र

इधर, बिलखिरिया थाना पुलिस ने धारा 381 का मुकदमा दर्ज किया है। यह मुकदमा 22 अप्रैल की दोपहर लगभग दो बजे दर्ज किया गया है। एफआईआर राजेश शर्मा (Rajesh Sharma) ने दर्ज कराई है। वह मूलत: उज्जैन (Ujjain) का रहने वाला है। उसके पास एक हार्वेस्टर था जो कि नसरुल्लागंज में परिचित ने दिया था। उसको ड्रायवर पंजाब (Punjab) निवासी हरजीत सिंह चलाता था। दोनों सतना हार्वेस्टर लेकर गए थे। बायपास चौराहे पर हार्वेस्टर पर काम निकल आ गया था। उसे सुधारने के लिए ड्रायवर हरजीत सिंह (Harjeet Singh) को सौंपकर वह पार्ट लेने इस्लाम नगर चला गया। वापस लौटकर जब आया तो ड्रायवर गायब था। हार्वेस्टर में 70 हजार रुपए थे जो उसमें नहीं मिले। घटना के बाद से वह फोन बंद करके गायब है।

Don`t copy text!