MP ATS: सिमी के दो फरार संदेही आतंकी दबोचे गए

Share

बम धमाकों के संबंध में पूछताछ के लिए महाराष्ट्र पुलिस ने हिरासत में लिया, मध्यप्रदेश के बुरहानपुर से हुई गिरफ्तारी

Special Taskl
मध्यप्रदेश पुलिस मुख्यालय भवन

भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस के आतंक निरोधी दस्ता (Madhya Pradesh Anti Terrorist Squad) ने दो दिन के भीतर प्रतिबंधित संगठन सिमी (SIMMI) के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है।  दोनों पर मुंबई (Mumbai Bomb Blast) में विधिविरूद्ध क्रियाकलाप निवारण अधिनियम के तहत केस दर्ज हैं। एक आरोपी पिछले 13 सालों से तो दूसरा 18 सालों से फरार चल रहे थे। जिनकी मुंबई एटीएस (Mumbai Anti Terrorist Squad) के अलावा विभिन्न राज्यों की गुप्तचर एजेंसियों को तलाश थी।
एडीजी एटीएस राजेश गुप्ता (ATS Chief Raajesh Gupta) के मुताबिक सिमी के सदस्य जाकिर हुसैन मार्ग बुरहानपुर निवासी एजाज पिता मोहम्मद अकरम के बारे में  एटीएस को पुख्ता सूचना मिली थी। इसके आधार पर गत 12 दिसंबर को पाला बाजार बुरहानपुर से एजाज को गिरफ्तार किया गया। एजाज के खिलाफ एटीएस मुंबई (Mumbai ATS) में विधिविरूद्ध क्रियाकलाप निवारण अधिनियम की धारा 10,13 के तहत केस दर्ज है। आरोपी एजाज को सीजेएम कोर्ट बुरहानपुर में पेश किया गया है। साथ ही महाराष्ट्र एटीएस को भी उसकी गिरफ्तारी के संबंध में सूचना दे दी गई है।

दिल्ली स्पेशल सेल की मदद से दूसरा गिरफ्तार-

इसी तरह एटीएस ने दिल्ली स्पेशल सेल (Delhi Special Cell) की मदद से सिकी के सदस्य शाहीन नगर ओखला दिल्ली निवासी इलियास पिता मोहम्मद अकरम को 13 दिसंबर को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। आरोपी इलियास के खिलाफ बुरहानपुर थाना कोतवाली में भारतीय दंड विधान की धारा 153 ए एवं विधिविरूद्ध क्रियाकलाप निवारण अधिनियम की धारा 11,13 के तहत प्रकरण दर्ज है। इसके साथ ही एटीएस थाना मुंबई में भी आरोपी इलियास के खिलाफ विधिविरूद्ध क्रियाकलाप निवारण अधिनियम की धारा 11,13 के तहत प्रकरण कायम है। एडीजी एटीएस गुप्ता ने बताया कि इलियास को फिलहाल मुंबई एटीएस को सौंपा गया है। इसे बुरहानपुर कोतवाली में दर्ज प्रकरण में रिमांड पर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Theft News: दाना डालने पहुंचा पड़ोसी तो लगी इस वारदात की भनक
Don`t copy text!