Bhopal Kidnapping News: कर्जदारों ने हीरा कारोबारी के बेटे को अगवा किया

Share

Bhopal Kidnapping News: घेराबंदी होते देख पांच घंटे बाद शिवपुरी में फेंक गए

Bhopal Kidnapping News
The Display

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Kidnapping News) से हीरा कारोबारी के बेटे को अगवा कर ले गए। घटना शनिवार रात शुरु हुई थी। जिसकी खबर पुलिस को मिलने के बाद कारोबारी के बेटे को बड़ी मशक्कत के बाद रिहा कराया गया। पुलिस ने इस घटना में तीन आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। तीनों आरोपी फिलहाल फरार है। जिन्हें दबोचने के लिए टीम जुटी हुई है।

ऐसे किया गया था अपहरण

को​हेफिजा​ स्थित सिल्वर हाइट्स में हीरा कारोबारी सैयद हनीफ (Syyed Hanif) का परिवार रहता है। सैयद हनीफ हीरों का कारोबार करते हैं। उनके बेटे हुजैफा (Hujefa) का 2 जनवरी की रात लगभग 11 बजे अपहरण कर लिया गया था। उसे बहाने से बुलाने के बहाने घर पर आसिफ खान आया था। हुजैफा उसको पहले से पहचानता था। दरअसल, शिवपुरी (Shivpuri) निवासी आसिफ खान के ससुर से उसने 20 लाख रुपए दो साल पहले उधार लिए थे। वह हुजैफा से बोलना कि वह कार में बैठकर बातचीत करना चाहता है। इसके बाद उसको कार से अगवा कर ले गए।

फोन और कार की चाबी छीनी

Bhopal Kidnapping News
The Display

हुजैफा ने उधारी की रकम 4 लाख रुपए चुका दी थी। परिवार जानता था कि उधारी को लेकर आसिफ खान वहां आया है। इसलिए परिवार भी पीछे—पीछे आ गया। उसने पुलिस को बताया कि कार में आसिफ का भाई शाहरुख (Shahrukh), दोस्त शालू (Shalu) और आसिम भी थे। आसिम ने परिवार के सामने उसको चांटा मार दिया। उसे जबरिया कार में धक्का देकर बैठाया गया। रास्ते में उसकी बातचीत से पिता से कराई गई थी। हुजैफा के पिता भोपाल में नहीं थे। वे हैदराबाद (Hyderabad) गए हुए थे। रास्ते भर उसको धमकाया गया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Attempt To Murder: रुम में पार्टी मनाने से पहले मांगी आईडी तो भड़के

यह भी पढ़ें: कोरोना के बाद लॉक डाउन का भोपाल के इस व्यक्ति पर पड़ा असर, लेकिन फायदा कोई दूसरा ले गया

परिवार के फोन आने लगे

हुजैफा को अगवा करने की खबर पिता को जब मिली तो उन्होंने पुलिस से मदद मांग ली। जिसके बाद पुलिस ने संदेहियों के ठिकानों पर दबिश देना शुरु कर दिया। इस दौरान आरोपियों के परिजनों के फोन आने लगे। परिजनों के दबाव में आरोपियों ने सुबह चार बजे शिवपुरी में हुजैफा को उतार दिया। यहां से वह सुरवाया थाने पहुंचा फिर पुलिस को पूरी कहानी बताई। पिता से आरोपियों ने कहा था कि वह रकम दे और अपने बेटे को ले जाए। पुलिस ने इस मामले में धारा 365/34 (अपहरण और एक से अधिक आरोपी) का मुकदमा दर्ज किया है। मामले में आरोपी आसिफ उर्फ राबी ([email protected]), शाहरुख उर्फ राजी, असद उर्फ शालू ([email protected]) हैं। सीएसपी शाहजहांनाबाद नागेंद्र पटैरिया (CSP Nagendra Pateriya) का कहना है कि आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास जारी है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!