रवि विश्वकर्मा हत्याकांड : स्टेशन रोड थाना टीआई नपे, लाइन हाजिर

Share

Ravi Vishwakarma Murder Case : थाना पुलिस पर लगे लापरवाही के गंभीर आरोप, दिग्विजय सिंह ने उठाए थे सवाल

Ravi Vishwakarma Murder Case
सतीश अंधवान, टीआई, फाइल फोटो

पिपरिया। (Pipariya) विहिप नेता रवि विश्वकर्मा की हत्या (Ravi Vishwakarma Murder Case) का मामला गर्माता जा रहा है। आरोपियों से गठजोड़ के गंभीर आरोप लगने के बाद स्टेशन रोड थाना टीआई सतीश अंधवान (TI Satish Andhwan) पर गाज गिरी है। एसपी संतोष सिंह गौर (SP Santosh Singh Gour)  ने टीआई सतीश अंधवान को लाइन अटैच कर दिया है। अंधवान की जगह अब टीआई अजय तिवारी (TI Ajay Tiwari) को थाने की कमान दी गई है। एएसपी अवधेश प्रताप सिंह (ASP Awadesh Pratap Singh) ने द क्राइम इन्फो डॉट कॉम को बताया कि प्रशासकीय लापरवाही के चलते टीआई अंधवान को लाइन अटैच किया गया है। वहीं सूत्रों का कहना है कि आरोपियों की गिरफ्तारी में लापरवाही बरतने की वजह से टीआई पर गाज गिरी है। टीआई चाहते तो जल्द ही आरोपी पकड़े जाते।

टीआई पर गंभीर आरोप

26 जून को रवि विश्वकर्मा की निर्मम हत्या हुई थी। स्टेशन रोड थाना क्षेत्र की सीमा से महज 5 फीट अंदर अंडरब्रिज पर रवि विश्वकर्मा को मौत के घाट उतार दिया गया था। इस घटना के स्थान को लेकर गंभीर सवाल उठ रहे है। रवि के परिजन ने टीआई सतीश अंधवान पर मुख्य आरोपी मुन्ना गुजर से सांठगांठ का आरोप लगाया था। परिजन का कहना है कि हत्या हथवास रोड़ पर भी हो सकती थी। लेकिन जानबूझकर स्टेशन रोड थाना क्षेत्र में ही वारदात को अंजाम दिया गया। ताकि थाना पुलिस से साठगांठ के चलते आरोपी बच निकले।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: चार बेटियों की मां ने एसिड पीकर की आत्महत्या

दिग्विजय सिंह के आरोप

रवि विश्वकर्मा के भाई अमित विश्वकर्मा ने कांग्रेस सांसद दिग्विजय सिंह को फेसबुक का फोटो दिखाया था। जिसमें मुन्ना गूजर, टीआई सतीश अंधवान को जन्मदिन की बधाई देते नजर आ रहे थे। इस फोटो दिग्विजय सिंह ने मीडिया के सामने भी रखा। साथ ही उन्होंने कहा कि इस केस में पुलिस की मिलिभगत उजागर हो रही है। दिग्विजय के आरोप लगाने के तुरंत बाद अंधवान पर गाज भी गिर गई है। इस मामले में 10 नामजद आरोपी हैं, लेकिन 5 दिन बाद भी महज एक आरोपी की ही गिरफ्तारी हो सकी है। वहीं दिग्विजय सिंह ने रवि विश्वकर्मा हत्याकांड में डीजीपी से जांच की मांग करने की बात कही है।

यह भी पढ़ेंः रवि विश्वकर्मा हत्याकांड में भाजपा नेताओं पर लगे गंभीर आरोप, सुनिए दिग्विजय सिंह का पूरा बयान

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।
Don`t copy text!