Ban Thai Mangur Fish News: प्रतिबंध के बावजूद खुलेआम बिक रही कैट फिश

Share

Ban Thai Mangur Fish News: वह मछली जो आदमी को भी खाने के बाद फिर भोजन की तलाश में जुट जाती है वह खुलेआम बेची जा रही

Ban Mangur Fish News
Mangur Fish, File Image

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में प्रति​बंधित मांगूर (Ban Thai Mangur Fish News) धड़ल्ले से बेची जा रही है। इस बात की शिकायत मत्स्य विभाग के अफसरों से भी की गई है। लेकिन, माफिया के आगे नत मस्तक विभाग कार्रवाई करने की बजाय मामले को दबाने में जुटा हुआ है। शहर के कई बड़े मछली व्यापारियों ने इस संबंध में शिकायत भी की है।

केंद्र सरकार ने किया था बैन

Ban Mangur Fish News
भरत सिंह, प्रभारी संचालक, मत्स्योद्योग मध्य प्रदेश

जानकारी के अनुसार मांगूर मछली दो तरह की होती है। थाई मांगूर के उत्पादन और उसको बेचे जाने पर पूरी तरह से रोक है। इसके बावजूद फिश माफिया अपने कैरियरों के जरिए मार्केट में इस प्रतिबंधित मछली को बिकवा रहे हैं। इस संबंध में द क्राइम इंफो के पास वीडियो और प्रमाण भी मौजूद हैं। इस मछली पर प्रतिबंध मार्च, 2019 में केंद्र सरकार ने लगाया था। जिसके बाद मध्य प्रदेश सरकार ने इस संबंध में आदेश जारी किए थे। प्रभारी संचालक मत्स्योद्योग विभाग भरत सिंह (Bharat Singh) ने बताया कि उन्हें भोपाल में मांगूर बिकने के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली है। उन्होंने दावा किया है कि जबलपुर में एक बार यह गिरोह पकड़ाया था।

यह भी पढ़ें: भोपाल के पूर्व महापौर जिस दल के हैं वह हिंदू समाज को लेकर आगे रहती है, लेकिन मंदिर को लेकर वे कौन सी राजनीति कर रहे

मछली कारोबारी ने बोला “झूठे हैं अफसर”

Ban Mangur Fish News
मोहम्मद नासिर, मछली कारोबारी

मछली कारोबारी मोहम्मद नासिर (Mohmmed Nasir) ने बताया कि मांगूर मछली धड़ल्ले से बेची जा रही है। इस संबंध में उन्होंने सीएम हेल्प लाइन से लेकर विभाग को भी शिकायत की है। अब तक किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गई। मांगूर भोपाल के कई इलाकों में खुलेआम बेचने से संबंधित जानकारी अफसरों को भी मुहैया कराई गई है।

यह भी पढ़ें:   डेढ़ करोड़ के टर्न ओवर वाली कंपनी की तीन साल बाद ली गई सुध

वीडिेयो में देखिए कैसे झोले से करोड़पति बन रहे शहर के फिश माफिया

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!