Bhopal Crime News: बालिकाओं ने अधीक्षिका को पीटा

Share

Bhopal Crime News:  परिजनों ने भोजन की सामग्री कहकर दे दिया था मोबाइल और सौंदर्य का सामान

Pyare Miya Rape Case
नाबालिगों से ज्यादती के मामले में गिरफ्तार आरोपी प्यारे मियां— फाइल फोटो

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के चर्चित प्यारे मियां (Pyare Miyan Rape Case) यौन शोषण मामले में गवाही देने वाली पांच बालिकाओं ने भारी हंगामा खड़ा कर दिया। घटना कमला नगर स्थित बालिका गृह की है। यहां पांच बालिकाओं ने मिलकर बालिका गृह की अधीक्षिका को भी पीट दिया। जब हंगामा हुआ तो वहां बालिकाओं के परिजन भी थे। जिसके बाद पुलिस की मदद लेनी पड़ी। हालांकि किसी तरह का कोई मुकदमा थाने में दर्ज नहीं हुआ है।

मेकअप का था सामान

पुलिस सूत्रों के अनुसार हंगामे की घटना शुक्रवार को हुई थी। नेहरू नगर स्थित बालिका गृह में पांच नाबालिग बालिकाएं है। यह वह बालिकाएं है जिन्होंने प्यारे मियां के खिलाफ बयान दिए थे। पांचों नाबालिग लंबे अरसे से घर जाने की जिद कर रही थी। शुक्रवार को पांचों नाबालिगों के करीब पंद्रह परिजन वहां मुलाकात करने पहुंच गए। लेकिन, कोविड गाइड लाइन को देखते हुए मुलाकात कराने से अधीक्षिका ने इंकार कर दिया। हालांकि मान-मनोव्वल करने पर कुछ खाने की सामग्री देने पर सहमति हुई। जब इन सामान को चैक किया गया तो उसमें मोबाइल और मेकअप का सामान था। जिसको देखकर अधीक्षिका ने उसको देने से इंकार कर दिया। इस बात से गुस्साई नाबालिग ने मारपीट कर दी।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

मीडिया से किया किनारा

पांचों नाबालिगों ने प्यारे मियां के खिलाफ बयान दिए थे। इस बयान के आधार पर आरोपी प्यारे मियां पर केस चल रहा है। इन्हें पिछले साल रातीबड़ थाना पुलिस ने पकड़ा था। जिसके बाद शाहपुरा थाने में बलात्कार का प्रकरण दर्ज हुआ था। फिर कोहेफिजा और इंदौर में मुकदमे दर्ज हुए। प्यारे मियां अभी भी जेल में हैं। वह बयान बदलवाने के लिए नाबालिगों के परिजनों को आरोपी का परिवार मान-मनौव्वल कर रहा है। इसीलिए लंबे अरसे से नाबालिगों के परिजन बालिका गृह पहुंच रहे थे। इस मामले की एक रिपोर्ट पीएचक्यू को भी भेजी गई है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: बिजली विभाग के कर्मचारी समेत दो ने की आत्महत्या

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!