Bhopal Cop Achievement: पाकेट मनी मिलना हुई बंद तो गैंग बनाई

Share

Bhopal Cop Achievement: नाबालिगों के गिरोह का पुलिस ने किया खुलासा, लूट और चोरी करना कबूला

Bhopal Cop Achievement
सांकेतिक चित्र

भोपाल। कोरोना के चलते देश हो या राज्य हर जगह से अजब—गजब मामले सामने आ रहे हैं। मामला मध्यप्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) का है। जहां लॉक डाउन के चलते छात्रों को घर से पाकेट मनी नहीं मिल रही है। इस कारण छात्रों के शोक पूरे नहीं हो पा रहे थे। छात्रों ने इसका हल निकाला और वह गैंग के रुप में सामने आया। नाबालिग पॉकेट मनी के लिए लूट और चोरी करने लग गए। पुलिस ने इन छात्रों को गिरफ्तार (Bhopal Cop Achievement) कर चोरी की कई गाड़ियां और लूट का सामान बरामद किया है।

शिकायत के बाद गैंग का पता चला

जहांगीराबाद निवासी रिजवान खान (Rizvan Khan) ने थाना जहांगीराबाद में कुछ दिनों पहले ही अपनी एक्टिवा चोरी होने की शिकायत दर्ज कराई थी। चोरी की जांच के दौरान पुलिस को अपने खबरियों से सूचना मिली कि दो संदिग्ध एक्टिवा के साथ डी—मार्ट के पास खड़े हैं। सूचना मिलते ही पुलिस ने घेराबंदी करके दोनों आरोपियों को पकड़ लिया। दोनों आरोपी नाबालिग (Bhopal Minor Boy Thief) बताए जा रहे हैं। उनमें से एक 10 वीं दूसरा कक्षा नौंवी का छात्र है। आरोपी जहांगीराबाद स्थित बरखेड़ी इलाके के रहने वाले हैं।

चोरी का सामान बरामद

पूछताछ में नाबालिगों ने बताया कि चिकलोद रोड से काली एक्टिवा चोरी करने के साथ ही उन लोगों ने एमपी नगर में एक महिला का पर्स भी छीना था। पर्स में दो सोने के टॉप्स, एक मंगलसूत्र का पेंडल और चेन मिली थी। पूछताछ में लड़कों ने बताया कि चोरी पापा के दोस्त की पल्सर बाइक से करते थे। इन लड़कों के घर से लूटा गया सामान बरामद की गई है। दोनों नाबालिगों ने दो अन्य साथियों की मदद से 4 गाड़ियां चोरी की थीं। पुलिस ने वाहन के साथ सारा सामान जब्त कर लिया हैं।

यह भी पढ़ें:   MP Cop Gossip: अपनों पर भी मेहरबानी नहीं कर रहे चौकी वाले

यह भी पढ़ें: मंत्री जी थाने का कर रहे थे उदघाटन उधर एक परिवार हत्या के मामले में शव ​नहीं मिलने पर सड़क पर था

इस कारण बने अपराधी

पुलिस ने बताया कि जहांगीराबाद में रहने वाला एक नाबालिग दसवीं कक्षा का छात्र है तो दूसरा नौवीं में पढ़ता है। पुलिस को दोनो छात्रों ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान घर से पॉकेट-मनी मिलना बंद हो गई थी। इसलिए शोक पूरे नहीं हो पा रहे थे। इसके लिए हमने लूट और चोरी की वारदातों को अंजाम देना शुरू कर दिया। दो साथियों के साथ मिलकर गैंग बनाई और फरवरी महीने से ही चोरी और लूट का काम शुरू कर दिया था।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!