NSUI Protest News: एनएसयूआई मेडिकल विंग ने मंत्री का पुतला फूंका

Share

NSUI Protest News: चिकित्सा शिक्षा विभाग में भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर इस्तीफा मांगा, मेडिकल यूनिवर्सिटी में अनियमितताओं का भी लगाया आरोप

NSUI Protest News
एनएसयूआई के कार्यकर्ता मंत्री का पुतला जलाते हुए।

भोपाल। एमपी एनएसयूआई मेडिकल विंग ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Minister Vishwas Sarang) के खिलाफ प्रदर्शन किया। अनियमितता और भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर पुतला (NSUI Protest News) भी फूंका गया। इसके अलावा नारेबाजी करते हुए इस्तीफे की मांग की गई। इस आंदोलन की अगुवाई मेडिकल विंग के पूर्व प्रदेश समन्वयक रवि परमार ने की।

यह लगाए गए हैं संगीन आरोप

रवि परमार (Ravi Parmar) ने आरोप लगाते हुए बताया कि मध्यप्रदेश में मेडिकल विश्वविद्यालय नर्सिंग काउंसिल और पैरामेडिकल काउंसिल की तरफ से फर्जी मेडिकल और फर्जी नर्सिंग मान्यता थोक में बांटी जा रही हैं। यहां पर अयोग्य अधिकारियों को बैठाकर परीक्षाओं में घोटाले किए जा रहे हैं। इस कारण मध्यप्रदेश के लाखों मेडिकल छात्र छात्राओं का भविष्य अंधकार में हैं। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेजों में कर्मचारियों पर तानाशाही रवैया अपनाया जा रहा है। मेडिकल विश्वविद्यालय और मेडिकल कालेजों में कई पद रिक्त हैं। मेडिकल विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं की परीक्षाएं पिछले तीन सालों से नहीं हुई। कई यूनिवर्सिटी में रिजल्ट भी अटके हुए हैं। परमार का आरोप है कि नर्सिंग कॉलेजों के फर्जीवाड़े से करीब 15 हजार छात्रों का भविष्य खतरे में पड़ गया है। नर्सिंग काउंसिल की रजिस्ट्रार सुनीता शिजु (Sunita Shiju) को सस्पेंड कर दिया गया था। इसके साथ ही 93 नर्सिंग कॉलेजों की मान्यता रद्द कर दी गई थी। लेकिन उसके बाद 80 नर्सिंग कॉलेजों मान्यता 1 महीने के अंदर ही बहाल कर दी गई। प्रदर्शन में राजवीर सिंह, लक्की चौबे, ईश्वर चौहान मोहित पटेल, विराज यादव, जितेंद्र विश्वकर्मा, पर्व ठाकुर, डॉ रामबाबू नागर, डॉ रूपेश विश्वकर्मा समेत कई अन्य छात्र छात्राएं मौजूद थे ।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

NSUI Protest News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: पुलिस का बर्खास्त सिपाही फंदे पर लटका
Don`t copy text!