MP Political Drama: होली के बाद प्रदेश में दिखेंगे कई रंग बोलकर नरोत्तम ने ​फैलाई सनसनी

Share

मध्य प्रदेश में सियासी हलचल बरकरार, भाजपा नेता राजभवन पहुंचे, विधानसभा अध्यक्ष से नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने की मुलाकात

Madhya Pradesh Political Drama
आवास पर मीडिया से बातचीत करते हुए भाजपा नेता और पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा

भोपाल। (Bhopal News In Hindi) मध्य प्रदेश में चल रहा राजनीतिक ड्रामा (Madhya Pradesh Political Drama) अभी खत्म नहीं हुआ है। एक तरफ कांग्रेस अपने खेमे के विधायकों के साथ होने का दावा कर रही है। वहीं शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) की तरफ से हुई हलचल ने सरगर्मी बढ़ा दी है। भारतीय जनता पार्टी के कई बड़े नेता और विधायक शनिवार को राजभवन पहुंचे। इससे पहले पूर्व मंत्री और भाजपा नेता नरोत्तम मिश्रा (BJP Leader Narrottam Mishra) ने राजा भोज विमानतल पर बयान देकर सनसनी फैला दी। उन्होंने कहा है कि होली के बाद कई रंग जनता को देखने मिलेंगे।

जानकारी के अनुसार विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति से मुलाकात करने नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव पहुंचे। यहां उन्होंने मीडिया से कहा कि वे भाजपा विधायकों की हटाई जा रही सुरक्षा को लेकर विरोध का ज्ञापन सौंपने आए थे। इसके बाद भाजपा नेताओं का प्रतिनिधि मंडल राजभवन पहुंचा। यहां राजभवन में राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात की। मुलाकात करने के लिए जाते वक्त एक कार में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, विधायक राजेन्द्र शुक्ल, संजय पाठक सवार थे।
यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री कमल नाथ के लिए मुसीबत खड़े करने वाले विधायक और उनके रिश्तेदारों की सूची
दूसरे वाहन में नरेला से विधायक और पूर्व मंत्री विश्वास सारंग, विधायक रामेश्वर शर्मा, गोविंदपुरा से विधायक कृष्णा गौर सवार थे। जब दूसरा वाहन राजभवन में प्रवेश कर रहा था तब कृष्णा गौर ने कहा कि भाजपा की सरकार बनने वाली है। इसलिए शपथ ग्रहण समारोह के संबंध में चर्चा के लिए आए हैं। हालांकि यह कहने के बाद उनकी हंसी नहीं रुक सकी। लेकिन, यह सारे विधायकों के चेहरे पर दिख रहा यकीन का रंग बता रहा था कि मध्य प्रदेश भाजपा में बदलाव के संकेत केंद्रीय नेतृत्व से मिल गए हैं। राजनीतिक जानकार आपरेशन पार्ट—2 की तरफ इशारा कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:   Madhya Pradesh Rape: सहायक जेल अधीक्षक पर यौन उत्पीड़न के आरोप

इधर, विमानतल पर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अभी होली के बाद कई रंग देखने को मिलेंगे। यह कहने के बाद उन्होंने सनसनी फैला दी। इसके बाद उनके निवास पर मीडिया पहुंच गया। यहां बयान देते हुए उन्होंने कहा कि किसी भी विधायक ने बंधक बनाने या पैसों के लेन—देन की बात नहीं की गई। केवल कांग्रेस पार्टी यह हल्ला मचा रही है। प्रदेश की जनता के साथ—साथ कांग्रेस विधायकों में भी असंतोष है। उन्होंने दिग्विजय सिंह का नाम न लेते हुए कहा कि लोगों ने पहले 100—100 करोड़ रुपए बांटने फिर 35 से 25 करोड़ रुपए बांटने के आरोप लगाए। जिसके आज तक कोई प्रमाण नहीं दे सके। लक्ष्मण सिंह से लेकर डंग तक मुख्यमंत्री कमल नाथ को कोस रहे हैं। उन्होंने शायराना अंदाज में बात खत्म करते हुए कहा कि मंथन है परिवर्तन का कुछ और तमाशा होने दो। कहां—कहां उनके गद्दार छुपे हैं कुछ ओर खुलासा होने दो।

Madhya Pradesh Political Drama
विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति को ज्ञापन सौंपते हुए नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के मंत्रियों के विज्ञापन बनाकर निकले एक व्यक्ति ने उड़ाई नींदे, रातों—रात उसको उठाया

बैंड बाजा के साथ जाउंगा
नरोत्तम मिश्रा ने उनके ठिकानों पर पड़े ईओडब्ल्यू के छापे पर कहा कि उन्हें तो कोई नोटिस नहीं मिला। इसके अलावा छापे पड़ने की जानकारी भी उनके पास नहीं आई है। उन्होंने कहा कि यदि नोटिस मिला तो वह बैंड बाजे के साथ ईओडब्ल्यू भी जाएंगे। नरोत्तम ने कहा कि सरकार कभी उन्हें हनी ट्रैप में तो कभी भ्रष्टाचार में फंसाने की धमकी देती रही है। लेकिन, आज तक कुछ किया तो है नहीं। यह सरकार अपनी कमजोरी और वादों को छुपाने के लिए भाजपा नेताओं को टारगेट कर रही है। लेकिन, अब तक वह अपनी नीयत में सफल नहीं हो सकी है।

यह भी पढ़ें:   अखबार में प्रकाशित हुई इस तस्वीर ने द्रवित किया, बच्चे की मदद को बढ़े कई हाथ

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!